ब्यावरा : सेवा और समर्पण की मिसाल देने पत्रकार का निधन

ब्यावरा ।  राजगढ़ जिले के नरसिंहगढ मे सेवा और समर्पण की मिसाल देने वाले वरिष्ठ पत्रकार योगेश मैथिल का आज असामयिक निधन होने से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई योगेश मैथिल को ब्रेन हेमरेज हो गया था, जिसके बाद उन्हें एलबीएस अस्पताल भोपाल मे भर्ती कराया गया लेकिन तबियत मे सुधार नहीं आने के बाद उन्हें बंसल अस्पताल मे एडमिट किया। करीब दस लाख रुपए खर्च करने के बाद भी बीते दस दिनों मे पत्रकार योगेंश मैथिल जिंदगी और मौत के बीच झूलते रहे और बीती रात उन्होंने अंतिम सांस ली। पत्रकार योगेश मैथिल सदैव अपनी पत्नि कस्तूरबा गर्ल्स हॉस्टल की संचालिका ऋचा मैथिल के कार्यो मे बढ़ चढ़कर सेवा भाव से कार्य करते थे.ऐसे मे जिले के अधिकारियो की नजर मे सबसे बेहतर हॉस्टल नरसिंहगढ़ का माना जाता था। जब रंग रोगन होकर हॉस्टल चमकने लगा और वह भी कम खर्च मे यह सब हुआ तो कई अधिकारियो ने इसकी तारीफ भी की लेकिन एक झूठी शिकायत की बिना जांच किए पत्नी का निलंबन और जांच की मांग के बाद पत्रकार योगेश मैथिल की तबीयत बिगड़ी और दु:खद अंत हो गया। इस घटना से पत्रकारों मे आक्रोश पनपना स्वाभाविक है.पत्रकार योगेश मैथिल के मामले में कहीं न कहीं बेवजह धमकाने ओर दबाव बनाने की बात सामने आ रही है, पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो ओर दोषी पर कार्रवाई की मांग को लेकर गुरुवार दोपहर 12:30 बजे राजगढ़ में महामहिम राज्यपाल, मुख्यमंत्री व गृहमन्त्री के नाम पत्रकारों द्वारा ज्ञापन सौंपा जाएगा. उक्त घटना की उच्च स्तरीय जांच होना चाहिए। ताकि ईमानदार पत्रकार को न्याय मिल सके।

Author: Dainik Awantika