April 15, 2024

अलग अलग गैंग, दो दर्जन चोर गिरफ्तार

ब्रह्मास्त्र इंदौर। वाहन चोरी पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस एक माह से धार-टांडा और देवास में कंजर गिरोह के डेरों पर लगातार छापे मार रही है। इससे वाहन चोरी की घटनाओं में काफी कमी आई है। इस माह पुलिस ने चार गिरोह को पकड़कर उनसे सौ से अधिक गाडिय़ां जब्त की हैं, जो अब तक एक माह का रिकॉर्ड है।
पिछले कुछ सालों से शहर में वाहन चोरी पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई थी। पुलिस कमिश्नरी लागू होने के बाद पुलिस ने इस पर काम किया तो पता चला कि पश्चिम के थाना क्षेत्रों से धार-टांडा का गिरोह गाड़ियां चुरा रहा है ,तो पूर्वी थाना क्षेत्रों से देवास के कंजर गिरोह गाड़ियां चुरा रहे हैं। कई स्थानों पर मिले फुटेज से यह स्पष्ट हो जाने के बाद पुलिस ने एक रणनीति बनाकर उस पर काम शुरू कर दिया।
पुलिस कमिश्नर ने अपनी टीम को निर्देश दिए कि हर सप्ताह इंदौर से बल ले जाकर कंजरों के डेरों पर छापामार कार्रवाई की जाए। इसके बाद पुलिस ने वहां से इंदौर से चुराई गई गाड़ियां बड़ी संख्या में जब्त कीं, वहीं पुलिस का कहना है कि लगातार छापे के चलते इन गिरोह ने शहर में आना बंद कर दिया है। इसके चलते वाहन चोरी की घटनाएं कम हुई हैं। पुलिस ने इस माह चंदनगर में धार-टांडा का गिरोह पकड़ा और उससे बीस के लगभग गाड़ियां जब्त की हैं। इसके अलावा हीरानगर, संयोगितागंज और लसूडिय़ा पुलिस ने तीन गिरोह पकड़े और इनसे 75 से अधिक गाड़ियां जब्त की हैं। जो एक माह में वाहन चोरी की गाडिय़ां जब्त करने का रिकार्ड है।

गिरोहों के दो दर्जन चोर गिरफ्तार

लगातार छापे से पुलिस ने देवास और धार-टांडा में सक्रिय कई गिरोह के सरगनाओं की पहचान कर ली है। इसके अलावा दो दर्जन से अधिक गिरोह के सदस्यों को छापे के दौरान पकड़ा गया है, वहीं बाकी की तलाश में टीमें लगाई गई है। गौरतलब है कि इंदौर से करीबन एक दर्जन से अधिक गाड़ियां रोज चोरी हो रही है।