फसलों को राहत, 24 घंटे में उज्जैन में करीब 4 इंच वर्षा

-सोयाबीन की जल्दी आने वाली 9560 किस्म में ज्यादा नुकसान,अन्य किस्म में हल्का नुकसान

उज्जैन।एक बार फिर से मानसुन का सिस्टम उठ खडा हुआ है और पिछले दो दिनों से बारिश ने जोर पकड लिया है जिले की सभी तहसीलों में बारिश का दौर चल पडा है।शुक्रवार सुबह बीते 24 घंटों में उज्जैन में करीब 4 इंच (95 मिमी) वर्षा दर्ज की गई है।सोयाबीन की जल्द आने वाली किस्म 9560 ही वर्षा की देरी से प्रभावित हुई है।शेष किस्म में मामुली नुकसान की बात कही जा रही है। बुधवार-गुरूवार से जिले की सभी तहसीलों में वर्षा का दौर शुरू हो गया है।एक बार फिर से वर्षा ने किसानों के चेहरे पर रंगत ला दी है।बराबर वर्षा होने से खेतों में भी हरियाली लौट आई है।फसलों को वर्षा से नया जीवन मिला है।जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में वर्षा न होने से चिंता में आया किसान एक बार फिर से खेतों की और रूख कर बैठा है।गत वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष बारिश अब तक आधी ही हुई है।जिले की सभी तहसीलों के एक से हाल हैं।उज्जैन सहित संभाग के सभी 7 जिलों में वर्षा का दौर एक बार फिर से शुरू हो गया है।उपायुक्त भू- अभिलेख उज्जैन संभाग उज्जैन कार्यालय के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान शुक्रवार सुबह 8 बजे तक संभाग के सभी जिलों में औसत वर्षा उज्जैन में 45 मिमी,देवास में 22.98 मिमी,शाजापुर में 14.8मिमी,रतलाम में 34.13 मिमी,मंदसौर में 17.2 मिमी,नीमच में 22 मिमी,आगर मालवा में 23.8 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

जल्द आने वाली फसल में नुकसान-

भारतीय किसान संघ के प्रांतीय पदाधिकारी भारतसिंह बैस ने बताया कि जिन किसानों ने 25- 6 जून के आसपास जल्द आने वाली फसल की किस्म 9560 में नुकसान हो गया है।यह 80 दिन की फसल है। इसके अलावा 100 से लेकर 110 दिन वाली किस्म में हल्का नुकसान हुआ है।इससे उत्पादन पर असर आना तय है।क्षेत्र में मुख्य रूप से सोयाबीन ही बोया गया है।शंकरपुर के किसान ईश्वरसिहं ने बताया कि सोयाबीन की 110 दिन वाली फसलों में 1135,रूचि सोया की 2023,2025,100 दिन वाली किस्म 1104,जेएस 2218 के साथ ही 90 दिनों वाली किस्म 2117,2172 की भी हालत ठीक –ठीक है।जल्द आने वाली फसल में 15 से 20 प्रतिशत का नुकसान होना संभावित है,जिसका असर उत्पादन पर आना तय है।वर्षा से फसलों को नया जीवन मिल गया है।

पिछले 24 घंटे में उज्जैन जिला में कहां कितनी वर्षा

तहसील             वर्षा               अब तक कुल वषार्

उज्जैन             95                706

घटि्टया           32.1              417.5

खाचरौद           46                 666

नागदा             41                 786.2

बडनगर           51                 625

महिदपुर          22                  563.8

झार्डा             49                  720

तराना             49                 779.8

माकडौन           20                449

नोट-आंकडे मिलीमीटर में हैं।स्त्रोत-जिला भू- अभिलेख कार्यालय।

Author: Dainik Awantika