April 16, 2024

उज्जैन। एक बार फिर क्षिप्रा नदी में शनिवार तड़के दोस्तों के साथ आया युवक नहाते समय डूब गया। आधे घंटे की तलाश के बाद उसका शव बाहर निकाला जा सका। युवक भोपाल का रहने वाला था और दोस्तों के साथ महाकाल दर्शन करने आया था।
महाकाल थाना पुलिस ने बताया कि भोपाल के विट्टल मार्केट में रहने वाला संदीप पिता भगवानदास भार्गव (19) अपने दोस्त निखिल राजपूत और विक्की यादव के साथ महाकाल दर्शन करने आया था। तीनों मंदिर जाने से पहले नहान के लिये तड़के 4.30 बजे रामघाट आरती द्वार पहुंचे थे। जहां निखिल और संदीप नहाने के लिये नदी में उतरे। विक्की सामान के पास बैठा था। कुछ देर में निखिल डूबकी लगाकर बाहर आ गया। संदीप दिखाई नहीं दिया। उसे तैरना आता था, दोस्तों को लगा कि आ जाएगा। जब आधे घंटे तक वह बाहर नहीं निकला। दोस्तों ने उसके डूबने का शोर मचाया। घाट पर होमगार्ड सैनिक और गोताखारों को युवक के डूबने का पता चला तो वह तलाश के लिये नदी में कूदे। करीब आधे घंटे बाद संदीप को गहराई से बाहर निकाला गया। उसकी मौत हो चुकी थी। शव जिला अस्पताल पहुंचाने के बाद परिजनों को सूचना दी। दोपहर में जिला अस्पताल पहुंचने पर मां-बहन बिलख उठे। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सौंपा। इस दौरान दोस्तों ने बताया कि संदीप ने पढ़ाई छोड़ दी थी और ड्रायवरी करने लगा था। वह परिवार का एकलौता पुत्र था।