अब चिमनबाग मैदान में होगा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का पड़ाव

खालसा स्टेडियम के बाद वैष्णव स्कूल में भी बात नहीं बनी, प्रियंका को भी न्योता, सांवेर में जुड़ेंगे कवि संपत सरल

26 नवंबर को महू, 27 को राऊ होते हुए इंदौर, 28 को इंदौर में विश्राम , 29 को सांवेर होते हुए उज्जैन, आगर मालवा की ओर बढ़ेगी यात्रा

इंदौर। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा अब 26 नवंबर को जिले में प्रवेश कर इंदौर में 27 को पहुंचेगी। इंदौर में यात्रा का रात्रि विश्राम अब खालसा स्टेडियम के बजाय चिमनबाग मैदान पर होगा। देर रात एडिशनल डीसीपी राजेश रघुवंशी ने इसकी अनुमति जारी कर दी। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को भी यात्रा में शामिल होने का न्योता भेजा है। एकाध दिन में इसकी स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।
पार्टी की ओर से सोमवार रात जारी कार्यक्रम के अनुसार, राहुल 26 नवंबर को संविधान दिवस पर महू में बाबा साहब आंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे। इसके बाद ड्रीम लैंड चौराहे पर नुक्कड़ सभा करेंगे। रात्रि विश्राम दशहरा मैदान महू में ही होगा। 27 नवंबर को सुबह 8 बजे यात्रा राऊ पहुंचेगी।

शाम 6.30 बजे राजबाड़ा पर सभा होगी। इसके पश्चात चिमनबाग में रात्रि विश्राम होगा। 28 को यात्रा का साप्ताहिक ब्रेक होगा। इस दिन कोई कार्यक्रम नहीं रखा गया है। 29 को फिर यात्रा शुरू होकर सांवेर की तरफ बढ़ेगी। जयपुर के कवि संपत सरल इसमें शामिल होंगे। वे तराना में होनेे वाली नुक्कड़ सभा का हिस्सा बनेंगे। यहां से यात्रा उज्जैन व आगर-मालवा होते हुए राजस्थान की ओर बढ़ेगी।

कहीं बात नहीं बनी अब चिमनबाग तय

दशहरा मैदान में तिब्बती मार्केट लगने वाला है। इसलिए मांगा ही नहीं। वैष्णव स्कूल में दो स्कूल संचालित हैं। सीबीएसई स्कूल होने से दो दिन की छुट्‌टी नहीं कर सकते थे। 80 बसें पहले से रहती हैं। खालसा स्टेडियम में प्रकाश पर्व पर कीर्तनकार ने नेताओं की उपस्थिति पर नाराजगी जताई थी। पहले यात्रा का विश्राम यहीं होना था, लेकिन बड़ा विवाद होने के बाद छोड़ दिया। शहर के मध्य में चिमनबाग मैदान ही विकल्प था। हालांकि सीएम राइज स्कूल होने से दूसरे कार्यक्रम की इजाजत नहीं है, लेकिन विशेष परिस्थिति में मंजूरी दी गई।

पं. मिश्रा की कथा पर खींचतान से टला राहुल का आना

क्षेत्र क्रमांक 1 विधायक संजय शुक्ला द्वारा आयोजित पं. प्रदीप मिश्रा की कथा में राहुल गांधी शामिल होंगे या नहीं इसे लेकर नेताओं में खींचतान जारी है। कार्यक्रम में फिलहाल इसे शामिल नहीं किया गया है, लेकिन पूरी कोशिश की जा रही है कि राहुल कुछ वक्त के लिए शामिल हो सकें। पुराने कार्यकर्ता राहुल को शहर कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन की सीढ़ियां चढ़ते देखना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *