कृष्ण भक्ति में रमे द.अफ्रीका के शहजादे ईस्माइल बन गए संत ईश्वरदास, इंदौर में मना रहे जन्माष्टमी

इंदौर। कृष्ण भक्ति में रमे मुस्लिम राजघराने में जन्मे दक्षिण अफ्रीका के शहजादे इस्माइल संत ईश्वरदास बन गए। वे इस्कान के कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव में शामिल होने आए हैं। आगमन पर पहले रेलवे स्टेशन और बाद में इस्कान मंदिर पर उनका स्वागत किया गया। वे रेलवे स्टेशन से वे निपानिया स्थित इस्कान मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने सम्पूर्ण परिसर का अवलोकन करने के बाद भगवान राधा गोविंद की पूजा अर्चना की।
स्वामी महामनदास ने बताया कि संत ईश्वरदास का 1977 के पूर्व नाम ईस्माइल था। वे एक अच्छे वक्ता, लेखक और संत हैं। उनकी अनेक पुस्तकें विदेशों में काफी लोकप्रिय हैं तथा वे स्वयं एक मीडिया हाउस के मालिक हैं। यह मीडिया हाउस धार्मिक पुस्तकों का प्रकाशन कर रहा है। संत ईश्वरदास शुक्रवार 19 अगस्त को पूरे दिन निपानिया मंदिर में आयोजित उत्सव में अतिथि के रूप में भाग लेंगे।

You may have missed