जन्माष्टमी पर भगवान महाकाल ने श्रीकृष्ण स्वरूप में दिए दर्शन

शिक्षा स्थली सांदीपनि आश्रम में भी विशेष उत्साह

उज्जैन। विश्व प्रसिद्ध श्री महाकालेश्वर मंदिर में शुक्रवार तड़के 3 बजे भस्म आरती के दौरान भगवान महाकाल ने श्री कृष्ण स्वरूप में दर्शन दिए। आभूषणों से श्रीनाथ जी के स्वरुप का श्रृंगार किया गया। जन्माष्ठमी पर्व पर बड़ी संख्या में महाकाल के श्री कृष्ण के स्वरूप में दर्शन पाकर भक्त धन्य हो गए।
इधर, मंगलनाथ रोड स्थित भगवान श्री कृष्ण की शिक्षा स्थली सांदीपनि आश्रम में रात 12 बजे से उत्सव की शुरुआत हुई। उज्जैन की धरा योगेश्वर भगवान श्री कृष्ण की शिक्षा स्थली होने से यहां पर कृष्ण जन्माष्टमी का अलग ही उल्लास रहता है।

You may have missed