April 24, 2024

भोपाल। जम्मू-कश्मीर में बादल फटने के बाद मध्यप्रदेश के 500 अमरनाथ यात्री फंस गए हैं। इनमें इंदौर- भोपाल के ही 300 से ज्यादा यात्री शामिल है।ये सभी पिछले कई घंटों से वे शेखनाग, पंचतरणी, पहलगांव और बालटाल में रुके हुए हैं। न तो वे आगे बढ़ पा रहे हैं और न ही वापस लौटने दिया जा रहा है। दूसरी ओर, इंटरनेट इश्यू भी बना हुआ है। रातभर हालात बहुत खराब रहे। शनिवार दोपहर तक बारिश होने से रेस्क्यू में दिक्कतें हुईं। सेना रेस्क्यू में जुटी है। भगवान का शुक्र है कि भोपाल या मध्यप्रदेश के सभी यात्री सुरक्षित हैं। वे आसपास ही रुके हुए हैं। हालांकि, इंटरनेट इश्यू बन गया है। यहां पर कई नेटवर्क की सिम नहीं चल रही है। इंटरनेट बंद होने से घरवालों से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं। खाने-पीने की पूरी व्यवस्था है।
भवन से 3 से 5 किमी दूर हैं यात्री
भोपाल के ओम शिव शक्ति मंडल के सचिव रिंकू भटेजा ने बताया कि भोपाली के सभी यात्री सुरक्षित हैं। वे भवन से 3 से 8 किलोमीटर की दूरी पर हैं। शेषनागर, पंचतरणी, पहलगांव और बालटाल में रुके हैं।
15 यात्रियों के साथ शेषनाग में रुके अनिल तिवारी ने बताया कि रातभर पहलगांव में बारिश हुई है, इसलिए यात्रा आगे नहीं बढ़ पा रही है और न ही वापस आने दिया जा रहा है।