April 24, 2024

इंदौर। सोमवार देर शाम सांवेर और गौतमपुरा से लगे गांवों ओसरा, कुलाल, जलोदिया ज्ञान, धर्मात, चांदनखेड़ी, गढ़ी बिल्लौदा, खेडा छड़ौदा, फुलान, अंबालिया आदि क्षेत्रों में तेज हवा के साथ करीब पौन घंटे तक बारिश और चने के आकार के ओले गिरे। इससे इन क्षेत्रों में गेहूं और लहसुन की फसलें खराब हो गई। मौसम विभाग ने इंदौर और आसपास अगले 24 घंटों में बादल छाने के साथ बूंदाबांदी व हल्की बारिश की संभावना जताई है।चांदनखेड़ी में तेज हवा व बारिश के दौरान बिजली गिरने से यहां रहने वाले संजय पिता बापसिंह की मौत हो गई। करीब 10 गांवों में तेज हवा के साथ हुई बारिश व ओलों ने फसलों को आड़ा कर दिया। किसान जीतू दरबार, यशपालसिंह, भूपेश, देव कुमावत ने बताया कि इस बार गेहूं की अच्छी कीमत मिलने की उम्मीद थी, लेकिन अब काफी नुकसान भुगतना पड़ेगा। किसानों ने शासन से फसलों का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की मांग की है।

गर्मी का अहसास

इधर, एरोड्रम स्थित मौसम केंद्र के अनुसार शहर में सोमवार को दिन का अधिकतम तापमान 32.7 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से 1 डिग्री सेल्सियस कम है। जबकि रात का न्यूनतम तापमान 20.2 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से 5 डिग्री ज्यादा है। एग्रीकल्चर कॉलेज के मौसम केंद्र के अनुसार दिन का अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस तथा रात का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस रहा। मंगलवार सुबह से भी बादल छाए हुए हैं तथा गर्मी का अहसास है।

24 घंटे में हल्की बारिश के आसार

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार वर्तमान में पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान के आसपास एक टर्फ के रूप में उत्तर में स्थित है। इससे एक चक्रवातीय सिस्टम पश्चिमी राजस्थान के ऊपर सक्रिय है। दूसरी ओर दक्षिणी बांग्लादेश के ऊपर अन्य चक्रवातीय गतिविधियां सक्रिय है। ऐसे ही मन्नार की खाड़ी से उत्तरी तमिलनाडु तट तक टर्फ लाइन गुजर रही है, इससे अगले पश्चिमी विक्षोभ के प्रभावी होने की संभावना बनी हुई है। अगले 24 घंटों में इंदौर, देवास, धार, उज्जैन, झाबुआ, आलीराजपुर, रतलाम, खण्डवा, खरगोन में बूंदाबांदी व हल्की बारिश हो सकती है।