इंटरनेट मीडिया पर हिंदू देवी-देवताओं की आपत्तिजनक फोटो, एनआईए से जांच की मांग

 

इंदौर। इंटरनेट मीडिया पर हिंदू देवी-देवताओं के आपत्तिजनक फोटो और झूठ परोसने की शिकायत पुलिस कमिश्नर राकेश गुप्ता से हुई है। जिस पेज पर फोटो और कमेंट्स हुए, वह समलैंगिकों के ग्रुप एलजीबीटी को प्रमोट करता है। साइबर सेल और राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए से जांच करवाने की मांग की गई है। इस कृत्य को हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं का अपमान और सौहार्द बिगाड़ने की साजिश बताया है।
कानून की छात्रा सपना प्रजापत के अनुसार 27 मार्च को इंटरनेट मीडिया का उपयोग करते वक्त फोटो फेसबुक पर ‘वन मैसेज’ पर फोटो देखे थे। फोटो में भगवान राम, शिव-पार्वती और हनुमानजी को आपत्तिजनक अवस्था में बताया गया है। ‘वन मैसेज’ पेज समलैंगिकों के समूह को प्रमोट करता है। इसके लाखों फालोअर हैं। फोटो के साथ झूठे और तथ्यहीन कमेंट्स किए गए हैं।
शिकायतकर्ता का आरोप है कि धार्मिक भावनाएं भड़काने, सौहार्द बिगाड़ने और आंतरिक शांति समाप्त करने की साजिश है। आगामी दिनों में नववर्ष, चैत्र नवरात्र जैसे त्योहार आने वाले है। ऐसे समय में हिंदू देवी देवताओं के अपमान से देश की शांति व्यवस्था भी प्रभावित हो सकती है। शिकायतकर्ता ने एनआईए से जांच की मांग की है।

You may have missed