April 15, 2024
दैनिक अवंतिका (उज्जैन)महाकाल दर्शन कर लौट रहे युवकों की कार बुधवार दोपहर सामने से आ रहे पेट्रोल टैंकर से जा भिड़ी। दुर्घटना में एक युवक की मौत हो गई, दो गंभीर रूप से घायल हुए हैं। जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। उनके पास मिले दस्तावेजों के आधार पर पहचान की गई है।
खरगोन के बाद बड़वाह से महाकाल दर्शन करने के लिए योगेश पिता देवेंद्र शर्मा अपने दो साथी राजकुमार पांडे और शुभम पिता श्रीराम व्यास के साथ उज्जैन आया था। महाकाल दर्शन के बाद तीनों अपनी जाइलो कार में सवार होकर वापस लौट के लिए रवाना हुए थे। चिंतामण ब्रिज के पास उनकी भिड़ंत सामने से आ रहे पेट्रोल टैंकर से हो गई। दोनों वाहनों की रफ्तार काफी तेज होने पर दुर्घटना भीषण रूप से हुई और युवको कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। दुर्घटना की जानकारी लगते ही नीलगंगा और चिंतामण थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। कार में सवार युवकों को बाहर निकाला गया और जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद एक को मृत घोषित कर दिया और दो की हालत गंभीर होने पर उपचार के के लिए भर्ती किया। मृतक की बॉडी को पोस्टमार्टम कक्ष में रखवाया गया जहां उसके पास मिले दस्तावेजों से उसका नाम शुभम होना सामने आया। घायल योगेश शर्मा ने बताया कि वह महाकाल दर्शन करने आए थे और वापस लौट रहे थे। उसके साथ शुभम और राजकुमार भी कार में सवार थे। लेकिन देवेंद्र की हालत ज्यादा कुछ बताने की स्थिति में नहीं थी। राजकुमार की हालत काफी गंभीर बनी हुई थी और वह बेहोशी की हालत में था। चिंतामण थाना पुलिस के अनुसार मृतक और घायलों के संबंध में जानकारी स्पष्ट नहीं हो पा रही है दस्तावेजों के आधार पर ही उनके नाम पते सामने आए हैं। खरगोन के बड़वाह पुलिस से संपर्क कर परिजनों को सूचना देने का प्रयास किया गया है। घायल योगेंद्र के अनुसार वह पूजा पाठ का काम करते हैं और दर्शन के लिए ही उज्जैन आए थे। पुलिस के अनुसार परिजनों के आने पर ही घायल और मृतक के संबंध में स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। घटनास्थल पर जांच के दौरान सामने आया कि पेट्रोल टैंकर इंदौर से नागदा की ओर जा रहा था। मौके से टैंकर चालक को हिरासत में लिया गया है जिससे पूछताछ की जा रही है। उसका कहना था कि कार चालक काफी तेज रफ्तार में था। भीषण रूप से हुई दुर्घटना के बाद चिंतामण ब्रिज के समीप लोगों की भीड़ लग गई थी और आवा गमन बाधित हो गया था। पुलिस में लोगों को मौके से हटाकर आवागमन सुचारू किया। वही दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हुए वाहनों को क्रेन की मदद से हटाकर थाने तक ले जाया गया है।