April 15, 2024

दैनिक अवंतिका
उज्जैन। बीती रात वेदनगर में सनसनीखेज वारदात हो गई। मंदिर से लौट रही वृद्धा को कार सवार 2 बदमाशों ने अगवा किया और चिंतामण ब्रिज के पास भूखी माता रोड पर छोड़कर भाग निकले। बदमाशों ने वृद्धा के कान और सोने की चेन छीन लिये। वृद्धा की मदद एक पुलिसकर्मी द्वारा की गई और परिजनों को सूचना दी गई। वेदनगर में रहने वाली शकुंतला पति स्व. जगदंबा प्रसाद 74 वर्ष रात 8 बजे क्षेत्र के हनुमान मंदिर पर दर्शन करने गई थी। जहां से 8.30 बजे वापस पैदल घर लौट रही थी,उसी दौरान अंधेरे में खड़ी एक फोर व्हीलर गाड़ी से 2 बदमाश बाहर निकले और वृद्धा का मुंह दबाकर गाड़ी में बैठा लिया। दोनों ने धमकाया और अपने साथ लेकर चले गये। बदमाश वृद्धा को चिंतामण ब्रिज मार्ग भूखी माता मंदिर क्षेत्र में लेकर पहुंचे और गले से सोने की चेन, कान के टॉप्स छीन लिये, वह हाथ की चूडियां भी निकाल रहे थे, लेकिन वृद्धा ने पीतल की होना बताई। दोनों बदमाशों ने उन्हे गाड़ी का दरवाजा खोलकर बाहर पटक दिया और भाग निकले। सूनसान रास्ते पर पड़ी वृद्धा को मौके से गुजर रही पुलिस वेन में सवार पुलिसकर्मी मनीष ने देखा तो गाड़ी रोकी और पूछताछ की। वृद्धा ने घटनाक्रम बताया तो पुलिसकर्मी ने परिजनों का नबंर लेकर कॉल किया और सूचना दी। परिजन रात 10 बजे भूखी माता मंदिर के समीप पहुंचे और शकुंतला पांडे को घर लेकर आये। मामले की सूचना नानाखेड़ा थाना पुलिस को दी गई। एसआई सुरेश कलेश टीम के साथ वेदनगर पहुंचे और वृद्धा से पूछताछ की। उन्होने बताया कि बदमाशों ने नकाब बांध रखा था। 20 ग्राम वजनी चेन और कान के टॉप्स लेकर गये। एसआई सुरेश कलेश ने क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालाना शुरू किये है। वृद्धा से बदमाशों द्वारा ले जाने वाले रास्ते के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है, लेकिन वह काफी डरी-सहमी थी। वृद्धा की बेटी स्मृति ने बताया कि मां रोज मंदिर जाती है। उन्हे पुलिसकर्मी का कॉल आया तो वह भूखी माता क्षेत्र पहुंचे थे। नानाखेड़ा पुलिस को सूचना देने के बाद डायल हंडेÑड आ गई थी।