मकान मालिक ने जताई थी पडोसी पर शंका दीवार कूदकर पलंग पेटी से चोरी किये थे 17 हजार रूपये

दैनिक अवंतिका
उज्जैन। पलंग पेटी का ताला तोड़कर रूपये चोरी करने वाले युवक को चंद घंटे बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मकान मालिक ने वारदात के बाद पड़ोसी पर शंका जताई थी। आरोपी नशा करने का आदी है। जिसके चलते उसने वारदात को अंजाम दिया था।
तराना तहसील के ग्राम छड़ावद में रहने वाला गणेश पिता भागीरथ मालवीय र्इंट भट्टे पर काम करता है। मंगलवार को परिवार के साथ काम पर गया था। शाम को लौटने पर ताला खोला तो अंदर रखी पलंग पेटी खुली मिली। उसमें रखा सामान बाहर पड़ा था और 17 हजार 800 रूपये गायब थे। उसने बिना ताला टूटे चोरी होने की शिकायत तराना पुलिस से की और पड़ोस में रहने वाले शराबी अशोक पिता रामचंद्र मालवीय पर शंका जताई। पुलिस ने रातभर उसकी तलाश की और बुधवार सुबह ग्राम से ही हिरासत में लिया। उसके पास से 14 हजार 900 रूपये मिले। पूछताछ करने पर उसने गणेश मालवीय के घर से चोरी करना बता दिया। बिना ताला टूटे हुई चोरी के संबंध में पता लगाने पर आरोपी ने पिछली दीवार कूदकर अंदर जाना बताया।  चंद घंटे में चोरी का खुलासा होने पर पुलिस ने बुधवार दोपहर मामले में गणेश की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर आरोपी को न्यायालय में पेश किया। टीआई रमेश कलथिया ने बताया कि आरोपी ने चोरी की गई राशि में से 2 हजार 900 रूपये खर्च कर दिये थे। जिसकी बरामदगी नहीं हो पाई है। आरोपी को गिरफ्तार कर चोरी के 14 हजार 900 रूपये बरामद करने में एएसआई आनंद झाला, प्रधान आरक्षक राहुल अठोदिया, आरक्षक भूपेन्द्रसिंह भदौरिया, प्रकाशचंद्र मेहता और सैनिक मुकेश भाटी की भूमिका रही है।माता-पिता शिकायत दर्ज कराने पहुंचे थाने
टीआई कलथिया ने बताया कि चोरी में आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उसके माता-पिता उसकी शिकायत दर्ज कराने के लिये थाने पहुंचे थे। उन्होने बताया कि अशोक शराब पीने का आदी हो चुका है। आये दिन रूपयों की मांग करता है। उसने कुछ दिन पहले दोनों को घर से भी निकाल दिया था। वह रिश्तेदारों के यहां रहने चले गये थे। उन्होने अशोक को पुलिस की गिरफ्त में देखा तो सजा देने की बात कहीं और लौट गये।जीआरपी की गिरफ्त में आया मोबाइल चोर
13 फरवरी को महाकाल दर्शन करने आये कुशीनगर से प्रिंस पांडे परिवार के साथ आया था। शाम को वापस ओखा गोरखपुर एक्सप्रेस लौटने के लिये स्टेशन पहुंचा और जनरल कोच में चढ़ते समय उसका मोबाइल अज्ञात बदमाश ने चोरी कर लिया था। मोबाइल 95 हजार का होने पर मामले की शिकायत जीआरपी को दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने प्लेटफार्म नबंर एक पर लगे कैमरों के फुटेज देखे। जिसमें संदेही दिखाई दिया था। जिसकी तलाश की जा रही थी। मंगलवार रात उक्त संदेही प्लेटफार्म पर दिखाई दिया तो उसे हिरासत में लिया उसने अपना नाम  सत्यनारायण पिता भुवान निवासी ताल जिला रतलाम होना बताया। पूछताछ  करने पर उसने मोबाइल चोरी करना बताया दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर बरामद किया है।

You may have missed