April 15, 2024

उज्जैन। पिछले दिनों शहर की कॉलोनी में पड़े मलबे में महाकाल मंदिर से निकली प्रचीन नंदी आदि की प्रतिमाओं के मामले में अब पुरातत्व विभाग ने भी मान लिया है कि यह प्रतिमाएं मलबे में फेकी गई थी।

जिम्मेदारों पर हो कार्रवाई, नंदी के अलावा और भी हो प्रतिमाएं हो सकती है…

ये प्रतिमाएं मंदिर में चल रहे निर्माण कार्य के दौरान खुदाई में निकली थी। उस समय इन प्रतिमाओं को आसपास ही जगह पर रख दिया गया था। लेकिन बाद में जब खुदाई का मलबा डंफरों में भरकर कॉलोनियों में फेंका गया तो जिम्मेदारों ने बड़ी लापरवाही करते हुए इन प्राचीन प्रतिमाओं को ही मलबे के साथ फिकवा दिया। वह बाद में जब मलबा उठाने के बाद महामृत्युंजय द्वार के निकट एक कॉलोनी में निजी प्लॉट पर ये प्रतिमाएं नजर आई तो बवाल मचा।