शास्त्रीनगर में दहन से पहले नजरे घूमाता रहा रावण -नानाखेड़ा और अंकपात पर भी हुआ दहन

दैनिक अवंतिका(उज्जैन) दशहरा पर्व के दूसरे दिन बुधवार को शास्त्रीनगर में रावण दहन से पहले नजरे घूमाता दिखाई दिया। आतिशबाजी के बीच रावण की दहाड़ भी सुनाई दे रही थी। शास्त्रीनगर के साथ ही नानाखेड़ा और अंकपात मार्ग पर भी रावण दहन की परंपरा को निभाया गया। विजयादशमी पर्व पर मंगलवार को दशहरा मैदान और कार्तिक मेला ग्राउंड में रावण दहन का आयोजन किया गया था। दूसरे दिन बुधवार को शास्त्रीनगर में 31 वां सार्वजनिक दशहरा उत्सव मनाया गया। मैदान में आकर्षक और चलित रावण खड़ा किया गया था। देर शाम कार्यक्रम की शुरूआत होने के बाद दहन से पहले रावण ने अपने दस सिरों के साथ चारों नजर घूमाई। इस दौरान रावण की दहाड़ भी सुनाई दी। जयसिंह दरबार मित्र मंडली द्वारा आयोजित रावण दहन कार्यक्रम में हजारों की संख्या में शहरवासी पहुंचे थे। जिन्होने आतिशबाजी का जमकर लुफ्त उठाया। विजयादशमी के दूसरे दिन नानाखेड़ा स्टेडियम और अंकपात मार्ग पर भी रावण दहन किया गया।

Author: Dainik Awantika