सुसनेर : दिगंबर जैन के पर्युषण पर्व पर रहेंगे 4 सर्वार्थ और एक अमृत सिद्धि योगल्ल 19 सितंबर से होना है पर्युषण पर्व की शुरूआत

सुसनेर ।  दिगंबर जैन समाज ने पर्युषण पर्व की तैयारियां शुरू कर दी हैं। 19 से 28 सितंबर तक चलने वाले पर्व के लिए मंदिरों में साफ-सफाई के साथ रंगाई-पुताई शुरू हो चुकी है। दिगंबर जैन समाज के अनुसार पर्युषण पर्व में एक तरह से संस्कारों का बोध किया जाता है। यही वजह है हर वर्ष की तरह इस बार के पर्व में बच्चों को अनिवार्य रूप से शामिल किया जाएगा। अशोक जैन मामा ने बताया कि दिगंबर जैन समाज के महापर्व भाद्र मास शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि 19 सितंबर से मनाया जाएगा 10 दिन चलने वाले इस पर्युषण पर्व पर 4 सर्वार्थ सिद्धि और 1 अमृत सिद्धि योग घटित होंगे। 20 सितंबर को सर्वार्थ सिद्धि और अमृत सिद्धि योग, 21, 24 और 25 सितंबर को सर्वार्थ सिद्धि योग घटित होगे। इससे इस पर्युषण पर्व का महत्व और अधिक बढ़ गया है। पर्युषण पर्व में कुछ लोग तो 10 दिन बिना अन्न और जल ग्रहण किए उपवास रखेंगे। इस अवसर पर जैन मंदिरों में कई धार्मिक आयोजन के साथ पूजन एवं भगवान के अभिषेक का ज्ञान दिया जाएगा। इस अवसर पर चंद्रप्रभु दिगंबर जैन छोटा मंदिर जी में दस दिनों तक उन्हें 24 तीर्थंकरो और उनसे जुड़े इतिहास के बारे में बताया जाएगा। साथ ही जैन पूजा की विधि भी सिखाएंगे।
आज के इस युग में हर व्यक्ति धर्म एवं उससे जुडी परंपराओं से दूर होता जा रहा है। ऐसे में नगर के श्री चंद्रप्रभु दिगंबर जैन छोटा मंदिर जी प्रतिवर्ष बच्चों के साथ युवाओं के द्वारा सामूहिक रूप से पूजन का कार्यक्रम किया जाता है। समाज के अशोक जैन मामा ने बताया कि इसके पीछे युवाओं एवं बच्चों को भगवान की पूजन विधी सिखाने के साथ ही उन्हे धर्म की राह पर चलने के प्रेरित करना है। नगर में दिगंबर जैन समाज के 4 मंदिर है सभी मंदिरों में पूजन एवं अभिषेक का कार्यक्रम आयोजित किए जाएगे किंतु छोटा मंदिर जी में विशेष पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

You may have missed