April 18, 2024

 

उज्जैन। पिछली बार कांग्रेस ने सिंधिया समर्थक राजेंद्र भारती बाबा को टिकट देकर मैदान में उतारा था लेकिन वह हार गए थे। इस बार शहर में हर जगह सुनने को मिल रहा है कि कांग्रेस उज्जैन उत्तर से दमदार प्रत्याशी को मैदान में उतार सकती है, यूं तो आधा दर्जन कांग्रेसी नेता दावेदारी कर रहे हैं जिनमें कई वर्षों से पार्षद रही वरिष्ठ कांग्रेसी नेत्री माया त्रिवेदी को दमदार प्रत्याशी के रूप में बताया जा रहा है। इनके अलावा अनंतनारायण मीणा, रवि राय, विक्की यादव, चुन्नू शर्मा आदि के नाम प्रमुखता से सामने आए हैं। सूत्रों के मुताबिक सर्वे के अनुसार भी इनमें सबसे ज्यादा दमदार प्रत्याशी के रूप में माया त्रिवेदी को बताया जा रहा है।

लेकिन कांग्रेस के आलाकमान को तय करना है कि किसे उज्जैन उत्तर से प्रत्याशी के रूप में उतरा जाए। पिछले वर्ष नगर निगम चुनाव में महापौर के दमदार प्रत्याशी रहे तराना विधायक महेश परमार का नाम भी उज्जैन उत्तर से चर्चाओं में सामने आया है। सामाजिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो ब्राह्मण समाज का बाहुल्य माना जाता है और फिर उसके बाद अन्य समाज के वोटों की संख्या भी महत्वपूर्ण है। युवा कांग्रेस के रूप में डॉ. बटुक शंकर जोशी के पुत्र भरत शंकर जोशी का नाम भी चर्चाओं में उभरकर सामने आया है।

कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का यह भी कहना है कि अगर पार्टी माया त्रिवेदी को मौका देती है तो प्रतिद्वंदी प्रत्याशी को टक्कर दी जा सकती है नहीं तो हर बार की तरह इस बार भी उज्जैन उत्तर विधानसभा सीट भाजपा के खाते में चली जाएगी। यह उल्लेखनीय है कि पार्षद माया त्रिवेदी अलग-अलग वार्ड से चुनाव लड़कर विजय हुई है। चर्चा है कि इस बार मजबूत ब्राह्मण दावेदार को पार्टी मौका दे सकती है।