April 16, 2024

एक लाख 26 हजार ट्रेक्टर स्वामी परिवार की महिलाओं को भी मिलेगा हर माह 1 हजार रूपये

उज्जैन । मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की महिलाओं के आर्थिक स्वालंबन, उनके स्वास्थ्य और पोषण स्तर में सुधार और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से लाड़ली बहना योजना की शुरूआत की। योजना में पूर्व में 23 से 60 वर्ष की लगभग 1 करोड़ 25 लाख महिलाओं को एक हजार रूपये प्रति माह उनके खातों में अंत‍रित किए गए। मुख्यमंत्री  चौहान ने योजना के लिए पात्रता की आयु सीमा को 23 वर्ष से घटाकर 21 वर्ष तथा ऐसी महिलाएँ जिनके परिवार में ट्रेक्टर है को भी योजना का लाभ देने का निर्णय लिया। इसमें प्रदेश की 4 लाख 77 हजार 199 महिलाएँ हर माह एक हजार रूपये का लाभ पाने के लिए पात्र हो गई है। वहीं जिनके परिवार में टेक्टर होने के कारण आपत्र थी ऐसी 1 लाख 26 हजार 80 महिलाएँ भी अब लाड़ली बहना योजना का लाभ मिलेगा।

प्रदेश में 21 से 22 वर्ष की कुल 4 लाख 77 हजार 199 महिलाएँ मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना के दायरे में आ गई है। इसमें सागर से सर्वाधिक 19 हजार 288, राजगढ़ 15 हजार 392, छतरपुर 14 हजार 776, शिवपुरी 14 हजार 745, उज्जैन 14 हजार 584, मुरैना 14 हजार 274, रीवा 13 हजार 565, इंदौर 12 हजार 986, जबलपुर 12 हजार 064, सतना 12 हजार 33, धार 11 हजार 876, दमोह 11 हजार 743, विदिशा 11 हजार 114, मंदसौर 11 हजार 27, देवास 10 हजार 881, छिन्दवाड़ा 10 हजार 986, भिण्ड 10 हजार 757, टीकमगढ़ 10 हजार 605, गुना 10 हजार 621, सीहोर 10 हजार 241, रतलाम 9 हजार 597, खरगौन 9 हजार 800, सीधी 692, रायसेन 9 हजार 405, ग्वालियर 9 हजार 708,  सिंगरौली 9 हजार 115, बडवानी 8 हजार 906, भोपाल 8 हजार 618, नरसिंहपुर 8 हजार 588, सिवनी 8 हजार 186, पन्ना 8 हजार 100, शाजापुर 8 हजार 736, कटनी 8 हजार 541, बालाघाट 7 हजार 893, खण्डवा 7 हजार 678, शहडोल 7 हजार 789, अशोकनगर 7 हजार 174, दतिया 6 हजार 801, बैतूल 6 हजार 651, नर्मदापुरम 6 हजार 781, मण्डला 6 हजार 089, आगरमालवा 5 हजार 901, बुरहापुर 5 हजार 394, झाबुआ 5 हजार 334, नीमच 5 हजार 492, श्योपुर 4 हजार 666, डिण्डोरी 4 हजार 042, अनूपपुर 4 हजार 215, उमरिया 4 हजार 554, अलीराजपुर 3 हजार 708, निवाड़ी 3 हजार 512 और हरदा में 2 हजार 975 महिलाओं को लाड़ली बहना योजना का लाभ मिलेगा।