April 24, 2024

रतलाम ।  जिले के पुलिस महकमे में प्रधान आरक्षक से लेकर थाना प्रभारी तक को अब बताना होगा कि उन्होंने सप्ताह में क्या-क्या काम किया। इसके लिए उन्हें बकायदा डायरी लिखना होगी। नवागत एसपी राहुल लोढा स्वयं पुलिस के काम का साप्ताहिक मूल्यांकन करेंगे। जिले में पदभार ग्रहण करते ही एसपी राहुल लोढा ने पुलिस महकमें में कसावट लानी शुरू कर दी है। गुरुवार को अपनी पहली क्राइम मीटिंग में एसपी ने पुलिसकर्मियों से लेकर अधिकारियों तक को अपनी कार्यप्रणाली से अवगत कराया।
डायरी लिख कर बताना होगा कितना किया काम
पहली क्राइम मीटिंग में एसपी राहुल लोढा ने सभी पुलिस अधिकारियों से परिचय प्राप्त किया। एसपी ने सभी को अपनी कार्यप्रणाली से अवगत कराते हुए अगले 10 दिनों का एजेंडा भी बताया। उन्होंने कहा कि थाने पर मौजूद प्रधान आरक्षक से लेकर थाना प्रभारी तक को प्रतिदिन के काम की डायरी लिखना होगी। किस कर्मचारी और किस अधिकारी ने क्या काम किया, कितनी प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की, किस मामले में क्या विवेचना की, कौन-सा जुआं सट्टा पकड़ा, अवैध शराब पकड़ी या और भी कोई कार्य जो ड्यूटी के दौरान उन्होंने किया है वह डायरी में लिखना होगा। प्रधान आरक्षक से लेकर उपनिरीक्षक तक के अधिकारियों के कामकाज का एसपी साप्ताहिक मूल्यांकन करेंगे। प्रति मंगलवार को उन्हें डायरी लेकर एसपी के समक्ष प्रस्तुत होना होगा।
थाना प्रभारी को हर 15 दिन में डायरी लेकर एसपी के समक्ष प्रस्तुत होना होगा। एसपी डायरी की समीक्षा कर कामकाज के आधार पर प्रधान आरक्षक से लेकर अधिकारियों के कार्यों का मूल्यांकन करेंगे।