आगामी चुनाव में क्षत्रिय समाज की भागीदारी सुनिश्चित करने अबकी बार क्षत्रियों की सरकार

राजगढ़ । आगामी चुनाव में क्षत्रिय समाज की भागीदारी सुनिश्चित करने अबकी बार क्षत्रियों की सरकार को लेकर क्षत्रिय करणी सेना परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज शेखावत ब्यावरा में

संविधान से देश चलता है इसलिए सरकार को लव जिहाद पर कड़े कानून बनाना चाहिए। आगामी विधानसभा चुनाव में क्षत्रिय समाज की भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु अबकी बार क्षत्रियों की सरकार का नारा बुलंद करते हुए क्षेत्रीय करणी सेना परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज शेखावत ने भोपाल बाईपास स्थित लाओम पैलेस पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि सत्ता में भागीदारी हेतु राष्ट्रीय पार्टियों द्वारा क्षेत्रीय को उनके प्रभुत्व वाली समस्त विधानसभा में टिकटों का वितरण कर क्षत्रिय कल्याण बोर्ड और सवर्ण आयोग का गठन किया जाये। लव जिहाद के मामले में कड़े कानून बनाया जाए। आरक्षण की समीक्षा हो क्रिमिलेयर का प्रावधान हो ताकि जरूरतमंद को इसका लाभ मिल सके आरक्षण का प्रावधान जातिगत ना होकर आर्थिक आधार पर होना चाहिए। पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए आपने कहा कि धार्मिक ग्रंथों पर फिल्में नहीं बनाना चाहिए, धार्मिक ग्रंथों में जो लिखा है उसी को प्रदर्शित करना चाहिए, विचारों की अभिव्यक्ति के नाम पर कुछ तो भी नहीं परोसा जा सकते हैं। यदि देश राष्ट्र सनातन धर्म पर आ जाएगी तो हम चुप नहीं बैठने वाले संविधान अपना काम करें करणी सेना अपना काम करेगी करणी सेना 22 राज्यों में काम कर रही है। पद्मावत में जो चमत्कार दिखाया था उसी तरह चमत्कार दिखाना पड़ेगा जातिगत समीकरणों के आधार पर टिकटों का वितरण किया जाता है उसी प्रकार क्षत्रिय समाज को भी 80 से 100 सीटों पर क्षत्रिय समाज की सत्ता में भागीदारी को सुनिश्चित करना होगा। राजनीतिक पार्टियां यदि क्षत्रिय समाज की मांगों पर सहमति नहीं जताती है तो वोट की मार अवश्य मारेंगे क्षत्रिय समाज नोटा का उपयोग भी कर सकता है या फिर निर्दलीय प्रत्याशी खड़े कर सकता है और अंत में चुनाव का बहिष्कार भी कर सकता है देश की एकता और अखंडता के लिए क्षत्रिय समाज ने सर्वस्व समर्पण किया फिर भी राजनैतिक पार्टियों द्वारा क्षत्रिय समाज की उपेक्षा होती रही इसलिए सत्ता में भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अबकी बार क्षत्रियों की सरकार का नारा बुलंद करने हेतु मैदान में उतरे हैं। भोपाल में 27 अगस्त को क्षत्रिय करणी सेना परिवार द्वारा क्षत्रिय एकता महाकुंभ का आयोजन किया जा रहा जिसमें विभिन्न मांगों को शासन के सम्मुख रखा जाएगा।

रिपोर्ट मुकेश सक्सेना 

 

You may have missed