शॉर्ट सर्किट से 2 बीघा गेहूं की फसल जलकर खाक, बड़ा नुकसान बचा

रुनीजा । लगता है इस बार प्रकृति और परमात्मा अन्नदाता ओं की कड़ी परीक्षा लेने को तुला है। अभी हुई अतिवृष्टि ओलावृष्टि के नुकसान से अन्नदाता उभर ही नहीं पा रहा था। की सामने एक और नई मुसीबत खड़ी हो गई। रुनीजा भूरिया मगरा तालाब के पेड़ विद्युत लाइन में शॉर्ट सर्किट होने से हेमराज पिता मोहनलाल धाकड़ निवासी माधोपुरा की 2 बीघा की गेहूं की फसल जलकर खाक हो गई। तथा पास में एक खेत में भी आग पूरी तरह से फैल गई है तो गनीमत है कि उसके के गेहूं कल परसों किसान ने कटवा लिए थे वरना उसका भी बड़ा नुकसान हो जाता। जिस समय आग लगी उस समय आसपास क्षेत्रों पर कई किसान फसल समेटने व कृषि कार्य में लगे थे सभी इकट्ठे हुए दौड़कर अपने अपने प्रयासों से आग को बुझाया । यदि येकिसान आज सतर्क नहीं होते ते हेमराज के साथ-साथ पास में अन्य किसान राधेश्याम साधु , मनोहर लाल धाकड़, अर्जुन नागर ,वकील पटेल के भी सैकड़ों बीघा गेहूं जलकर खाक हो जाते। इस संदर्भ में किसानों ने मांग की कि मध्य प्रदेश विद्युत मंडल द्वारा वर्तमान में विद्युत सप्लाई दी जा रही उसका समय बदला जाए क्योंकि अभी गर्मी चालू हो गई है और शार्ट सर्किट का भय बना रहता ।

 

You may have missed