इंदौर में एसबीआई क्रेडिट कार्ड के नाम पर फार्मा कर्मी व महिला से ठगी

झारखंड-नोएडा के खातों में ट्रांसफर हुए रुपए

इंदौर। एरोड्रम इलाके में क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल हुए बिना ही फार्मा कंपनी कर्मचारी के खाते से रुपए ट्रांसफर हो गए। दूसरी तरफ कार्ड बंद कराने के नाम पर महिला से ठगी कर दी गई।

अमाउंट कन्फर्म का ओटीपी से ठगी

फार्मा कंपनी में काम करने वाले राजेश भदकारे निवासी सुखदेव नगर ने बताया कि नवबंर 2022 में उनके मोबाइल पर लगातार क्रेडिट कार्ड से 45 हजार से अधिक के अमाउंट को लेकर कन्फर्म करने के लिए ओटीपी आ रहे थे। उन्होंने उक्त ओटीपी को किसी से साझा नही किया। कुछ दिन बाद उन्हें अपना क्रेडिट स्कोर ठीक करने के लिए मैसेज आया। जब उसे देखा तो पता चला कि 45 हजार से अधिक की अमाउंट पेटीएम रिटेल नोएडा के खाते में ट्रांसफर हुई है।

एसबीआई की फर्जी लिंक से उड़ाए रुपए

दूसरा मामला मनीषा वाजपेयी का है। वह संगम नगर में रहती हैं। पुलिस को की गई शिकायत में मनीषा ने बताया कि दिसंबर 2022 में उनके मोबाइल पर शाम को एक कॉल आया। जिसमें उन्हें बताया गया कि उनके एसबीआई क्रेडिट कार्ड को बंद करवाने की आखिरी तारिख है। अगर कार्ड बंद नहीं करवाया तो इसके बदले उनके एसबीआई अकाउंट से अमाउंट कट जाएगा। इसके बाद कॉलर ने एसबीआई की एक लिंक शेयर की। जिस पर हूबहू एसबीआई का साइन बना हुआ था। उस पर लिंक करने के बाद एक ओटीपी आया। जो कॉलर ने पूछा। ओटीपी की जानकारी देते ही क्रेडिट कार्ड से करीब 46 हजार से अधिक का अमाउंट ट्रांसफर हो गया।
पता चला कि अमाउंट किसी कलाम अंसारी निवासी पठार घटिया, झारखंड के अकाउंट में ट्रांसफर हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *