April 19, 2024

जमकर नारेबाजी, कलेक्टर ने राहत राशि चार लाख रुपए स्वीकृत किए

इंदौर/ देवास।

देवास जिले के ग्राम देवली में मुस्लिम समुदाय के कट्टरपंथियों अकरम मंसूरी, सैफी मंसूरी, जायदा बी, बसीर मंसूरी दलित मजदूर आकाश मालवीय के प्लॉट पर अवैधानिक से कब्जा करना चाहते थे। आरोपियों की प्रताड़ना से तंग आकर आकाश मालवीय ने 13 जनवरी को फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।
परिजनों द्वारा 13 जनवरी को मृतक के शव को लेकर थाना टोंकखुर्द में धरना दिया गया, तब जाकर आरोपियों पर धारा 306 के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था ।
उक्त मामले में आर्थिक सहायता एवं आरोपियों के मकान जमींदोज करने को लेकर अखिल भारतीय बलाई महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार के नेतृत्व में कल चामुंडा कांप्लेक्स से रैली निकालकर कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने नारेबाजी कर कलेक्टर ऋषभ गुप्ता को ही ज्ञापन देने की मांग को लेकर कलेक्टर कार्यालय में धरने पर बैठ गए। पुलिस अधिकारी उन्हें समझाइश देते रहे लेकिन प्रदर्शनकारियों ने कलेक्टर से मिलने की बात कही ।
इस बीच महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार परिजनों के साथ कलेक्टर से मिलने अंदर गए। जहां कलेक्टर ने परिजनों और समाजजनों की बात सुनकर उन्हें कहा कि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में मृतक के परिजनों को तत्काल चार लाख की राशि स्वीकृत की जाती है। सुरक्षा के लिए पुलिस व्यवस्था तुरंत कर दी जाएगी। बातचीत के दौरान देवास एसपी डॉक्टर शिवदयाल भी मौजूद थे ।
इस मौके पर मुख्य रूप से प्रदीप मालवीय, संदीप, सुनील, अमरीश बिगोनिया, समंदर सिंह, राय सिंह मालवीय, रोहित मालवीय, राजकुमार नागदा, संजय गहलोत, महेंद्र, सुनील, महेश मीणा, लल्ला सोलंकी, अजब सिंह मालवीय, गिरधारी परमार सहित सैकड़ों की संख्या में समाजजन और महासंघ के पदाधिकारी मौजूद थे।