April 19, 2024

उज्जैन। प्रापर्टी कारोबारी की 2016 में हुई मौत के बाद पार्टनर ने फर्जी हिबानामा तैयार कर 13 बीघा जमीन अपने नाम करा ली। मृतक की पत्नी को कुछ साल बाद पता चला तो मामले की शिकायत आवेदन देकर की। पुलिस ने जांच के बाद धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है।
चिमनगंज थाना पुलिस ने बताया कि आगररोड एकतानगर स्थित मदरसे के सामने 13 बीघा जमीन युसुफ के नाम थी, जिसकी 5 अप्रैल 2016 में मौत होन के बाद साथ प्रापर्टी का काम करने वाले इरफान पिता मुख्तयार अहमद निवासी जामा मजिस्द भार्गव मार्ग, जावेद पिता एहमद हुसैन और मोहम्मद ताहिर पिता मोहम्मद फारुख निवासी टंकी चौक ने मृतक युसुफ खान के फर्जी हस्ताक्षर और हिबानामा बनाकर जमीन अपने नाम करा ली। मामले की शिकायत मृतक युसुफ की पत्नी दरख्सा अंजुम खान निवासी आरएन्टी मार्ग जीवाजीगंज क्षेत्र द्वारा दर्ज कराई गई थी। जांच के बाद तीनों आरोपितों के खिलाफ मामले में धारा 419, 420, 467, 468, 471, 120 बी में प्रकरण दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि पति की मौत के बाद दरख्सा अंजुम मुम्बई चली गई थी। जहां सीए की नौकरी कर रही थी। उसे पति के नाम की 12-13 बीघा जमीन फर्जी हस्ताक्षर के साथ हिबानामा तैयार कर हड़पने की जानकारी लगी तो उसने 1 जनवरी 2021 से 10 जनवरी 2023 के बीच धोखाधड़ी होने की शिकायत आवेदन देकर पुलिस को दर्ज कराई थी।