April 24, 2024

उज्जैन। सट्टा खाते पकड़ाये युवक से मिले सुराग के बाद क्राइम टीम ने कुख्यात सट्टेबाज की लोकेशन ट्रेस की। वह चलती कार में सट्टा पेटी लगाकर बड़े पैमाने पर खाईवाली करते इंदौर-धार के सटोरियों सहित गिरफ्त में आ गया। क्राइम टीम को सट्टे के साथ हवाला कारोबार की लिंक मिली है। क्राइम ब्रांच प्रभारी आईपीएस विनोद कुमार मीणा को सट्टा कारोबार में शामिल जयेश पिता नारायणदास आहूजा निवासी शास्त्रीनगर की काफी समय से तलाश थी। शनिवार रात सुराग मिलने पर उसकी लोकेशन को ट्रेस किया गया। चिंतामणरोड की जानकारी सामने आते ही टीम ने घेराबंदी की। जयेश अपने साथियों के साथ इंदौर पासिंग 2 कार में सवार था। उसे हिरासत में लिया गया और कार की तलाशी ली गई तो उसमें सट्टा पेटी लगी होना सामने आया। पेटी से 26 मोबाइल जोड़ रखे थे। जिसके माध्यम से लिंक दी जाती थी। क्राइम टीम ने 48 मोबाइल, 4 लेपटॉप, 2 कार, 21 हजार नगद और लाखों का सट्टा हिसाब जब्त कर सट्टेबाज के 6 साथियों को गिरफ्तार कर लिया। आईपीएस मीणा नेे बताया कि जयेश चलती कार में खाईवाली करता था, उसने कारोबार कई शहरों में फैला रखा है। पूर्व में माधवनगर पुलिस ने उसके अड्डे पर दबिश दी थी, वह भाग निकला था। उस वक्त भी आरोपी बनाया गया था, लेकिन न्यायालय से अग्रिम जमानत ले आया था।