April 18, 2024

इंदौर। भाजपा के मेयर प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव ने सुबह 7.30 बजे जूनी इंदौर स्थित प्राचीन गणेश मंदिर के दर्शन किए। वे यहां पत्नी जूही और परिवार के अन्य लोगों के साथ पहुंचे थे। इसके बाद भार्गव ने रणजीत हनुमान के दर्शन किए और पौने 9 बजे मतदान किया।

कई जगह ईवीएम खराब

उधर, शहर के कई वार्ड में ईवीएम मशीनों के खराब होने की सूचना है। जिसके चलते मतदान लगभग आधे घंटे की देरी से शुरू हुआ। वार्ड 17 के बूथ क्रमांक 471, वार्ड 80 के बूथ क्रमांक 2090 में मशीन खराब होने से मतदान 20 मिनट देरी से शुरू हुआ। चंदन नगर वार्ड 2 भाग क्रं 13 में एक मशीन में खराबी आने से वोट डालने में देरी हुई। सुदामा नगर में कई लोगों ने वोटर लिस्ट में नाम नहीं होने की शिकायत की।

मंत्री सिलावट ने सपरिवार किया मतदान

जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने सपरिवार मतदान किया।
जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने सपरिवार मतदान किया।

मतदान के 2000 केंद्र

बुधवार को शहर सरकार का चुनाव को लेकर सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हुई। दो हजार से ज्यादा मतदान केंद्रों पर वोट डाले जा रहे हैं। नगर निगम के मेयर पद के लिए 19 और पार्षद पदों के लिए 341 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला 18 लाख 35 हजार 316 इंदौरी वोटर करेंगे। बारिश के चलते 8 मतदान केंद्र को मंगलवार रात को ही बदलना पड़ा था। शहर में 2 हजार 250 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें से कई पोलिंग बूथ को गुब्बारों से सजाया गया है।

कई वार्डों में कड़ा मुकाबला

खास बात यह कि इस बार पार्षद पदों के प्रत्याशियों के चुनाव काफी टशन वाले हैं, क्योंकि इस बार भाजपा व कांग्रेस दोनों के कई बागी प्रत्याशी मैदान में हैं। इसके चलते मुकाबला कड़ा व रोचक हो गया है। शहर के माहौल के लिहाज से मेयर पद के लिए पुष्यमित्र भार्गव व संजय शुक्ला में सीधा मुकाबला है। दोनों ही पार्टियों के नेता व समर्थक भी पूरे दमखम व विश्वास के साथ मैदान में हैं।

भाजपा के मेयर प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव ने सुबह गणेश भगवान और हनुमान जी के दर्शन के बाद पौने 9 बजे केंद्र क्रमांक 2155, एमविन पब्लिक स्कूल क्र.न 1 सुदामा नगर सेक्टर ई में वोटिंग की।
कांग्रेस के मेयर प्रत्याशी संजय शुक्ला अपने परिवार के साथ सुबह 11 बजे बाणगंगा शासकीय विद्यालय में स्थित मतदान केंद्र पर जाकर मतदान किया।

मैदान में प्रशासन

प्रत्याशियों और नेताओं की बढ़ी चिंता
अब सारी नजर मौसम पर भी निर्भर है क्योंकि मंगलवार को जिस तरह से बारिश हुई उसने प्रत्याशियों व वरिष्ठ नेताओं को चिंता में डाल दिया है। हालांकि समर्थक इसके लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते। आचार संहिता और नियमों-कायदों के बीच वे हर हाल में ज्यादा से ज्यादा मतदान कराने में जुटे हैं। जिला प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि वे अपने मताधिकार का पालन करें।

गड़बड़ी करने वालों को तुरंत भेजा जाएगा जेल

8 हजार से ज्यादा पुलिस अधिकारी-पुलिसकर्मी मैदान में
चुनाव में करीब 8 हजार से अधिक पुलिस अधिकारी व पुलिसकर्मी मैदान में हैं। इसमें इंदौर जिला पुलिस बल के 6 हजार जवान सीमा क्षेत्रों के साथ सभी 85 वार्ड में तैनात हैं। इसके साथ ही एसएफ की तीन कंपनियां संवेदनशील क्षेत्रों में तैनात है। होमगार्डस के 350 जवान भी तैनात हैं। पुलिस कमिश्नर हरिनारायणाचारी मिश्र ने कहा है कि गड़बड़ी करने वालों को तुरंत जेल भेजा जाएगा।