April 15, 2024

ब्रह्मास्त्र मुंबई
डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली का पोस्टर आते ही विवादों में घिर गया। बीते दिनों सोशल मीडिया पर जैसे ही पोस्टर सामने आया यूजर्स ने मेकर्स को निशाने पर ले लिया। इस फिल्म को डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई ने बनाया है। लोगों का कहना है कि उन्होंने हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है। जारी किए गए पोस्टर में एक महिला मां काली के वेशभूषा में है। उन्हें सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। उनके एक हाथ में एलजीबीटी समुदाय का झंडा है और एक हाथ में त्रिशूल है। सोशल मीडिया पर पोस्टर को शेयर करते हुए लीना की गिरफ्तारी की मांग की जा रही है।
अब इस संबंध में लीना के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। पोस्टर को लेकर फिल्म की डायरेक्टर के खिलाफ एक वकील ने एफआईआर दर्ज कराई है। साथ ही गौ महासभा नाम के संगठन ने दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय में शिकायत की है। बीते 2 जुलाई को लीना ने फिल्म का पोस्टर जारी करते हुए लिखा, मेरी हालिया फिल्म का आज पोस्टर लॉन्च करते हुए उत्साह से भरपूर हूं। पोस्टर को कनाडा के आगा खान म्यूजियम में होने वाले फिल्म फेस्टिवल फँ८३ँे२ ङ्मा उंल्लंंि में रिलीज किया गया था।
मामले पर बंगाली अभिनेत्री और तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां ने अपना रिएक्शन दिया है। सोमवार को नुसरत इंडिया टुडे के एक कार्यक्रम में शामिल हुई जहां उन्होंने ह्यकालीह्य के पोस्टर को लेकर हो रहे विवाद पर कहा, ह्यमेरा मानना है कि धर्म को बीच में मत लाइए। इसे बेचने के लिए मत बनाइए। यह आसान है कि आप अपने ड्राइंग रूप में बैठकर गॉसिप स्टोरीज देखें। मैंने हमेशा रचनात्मकता का समर्थन किया है। साथ ही मेरा यह भी मानना है कि धार्मिक भावनाएं आहत नहीं की जा सकती हैं।ह्य