BJP प्रदेश संगठन में परिवर्तन की अटकलें:सांसद ज्योतिरादित्य 9 जून को आ सकते हैं भोपाल

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की रफ्तार तो कम हो गई है, लेकिन सियासी उथल-पुथल शुरू हो गई है। दमोह चुनाव की हार के बाद से ही भाजपा में संगठन स्तर पर बदलाव को लेकर चर्चा शुरू हो गई हैं। बंद कमरों में बड़े नेताओं की बैठकों के बाद अब सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के संभावित भोपाल दौरे को लेकर ज्यादा ही सुगबुगाहट होने लगी है।सूत्रों की मानें, तो सिंधिया 9 जून की सुबह करीब 10 बजे दिल्ली से भोपाल आएंगे। यहां उनका दिन भर रुकने का प्रोग्राम है। इसके बाद वह ग्वालियर निकल जाएंगे। वहां 2 दिन रुक सकते हैं। अभी तक उनके दौरे को लेकर अधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है। उनका पहले से कार्यक्रम भी जारी नहीं किया गया है।दमोह चुनाव के बाद से ही भाजपा नेता आपसी बयानबाजी में फंसे हैं। 2 दिन पहले प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और नरोत्तम मिश्रा के बीच बंद कमरे में बातचीत हुई। इसके बाद शर्मा ने मुख्यमंत्री निवास पहुंचकर सीएम शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के 3 पदाधिकारी भी मौजूद रहे। बताया जाता है, इस दौरान संगठन में सिंधिया खेमे के लोगों को नई जिम्मेदारी देने और उन्हें शामिल करने को लेकर चर्चा हुई। अब सिंधिया के 9 जून का भोपाल दौरा इसी को देखते हुए होना माना जा रहा है। हालांकि इस बारे में बड़े नेता खुलकर बात नहीं कर रहे।बताया जाता है, सिंधिया को अब तक केंद्रीय मंत्री का पद नहीं मिला है। इसे लेकर भी पार्टी के शीर्ष नेताओं पर काफी दबाव है। पद नहीं मिलने के कारण कांग्रेस भी लगातार सिंधिया को निशाने पर लेती रहती है। ऐसे में सूत्रों की मानें, तो जल्द ही सिंधिया को केंद्रीय मंत्री पद मिल सकता है। हो सकता है कि इसी को लेकर वे मध्य प्रदेश आ रहे हों।भाजपा के राज्‍यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी आखिरी दौर में रोड शो के लिए दमोह जाना था, लेकिन उनका दौरा रद्द हो गया था। पार्टी की तरफ से जारी कार्यक्रम में ज्योतिरादित्य सिंधिया का 13 और 14 अप्रैल को दमोह में चुनाव प्रचार निर्धारित हुआ था। उनके कार्यक्रम को टाल दिया गया। दमोह चुनाव में सिंधिया एक बार ही प्रचार में पहुंच पाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *