April 18, 2024

उज्जैन। सुभाषनगर में महिला को गलत काम के मामले में जेल भेजने की धमकी देकर मंगलाूत्र और 30 हजार की वसूली करने वाले 4 तथाकथित पत्रकारों पर पुलिस ने संगीन धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। 2 दिन बाद थाने पहुंची महिला ने मामले की शिकायत दर्ज कराई है। सुभाषनगर में 3 दिन पहले चार लोग एक मकान में घुस और देहव्यापार संचालित होने की बात कहीं। चारों ने खुद को पुलिस और पत्रकार बताकर वीडियो बनाने के साथ पूछताछ शुुरु कर दी। चारों ने मकान में मौजूद महिला और उसके साथी को जेल भेजने की धमकी दी और मामले से बचने के लिये 5 लाख की मांग करने लगे। चारों ने दबाव बनाकर महिला से मंगलूसत्र छीन लिया और 30 हजार की वसूली कर भाग निकले। महिला ने चारों के वाहन पर प्रेस लिखा देखा तो शंका हुई, लेकिन वह काफी घबरा गई थी। घटना कारित करने वालों ने वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी थी। जिसके चलते वह शिकायत दर्ज कराने थाने नहीं पहुंची। इस बीच पूरी घटना सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने संज्ञान लिया और नीलगंगा पुलिस को जांच के लिये सुभाषनगर भेजा तो उक्त मकान पर ताला लगा मिला। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही थी, इस बीच शनिवार देर रात सुदामानगर में रहने वाली महिला मीना पति धर्मेन्द्र कुशवाह नीलगंगा थाने पहुंच और अपने साथ हुआ घटनाक्रम बताया। पुलिस ने महिला के बयान दर्ज कर प्रेस लिखे वाहनों के आधार पर पुष्टि की तो 4 तथाकथित पत्रकारों की जानकारी सामने आ गई।