April 24, 2024

उज्जैन। पुराने न्यायालय परिसर में शनिवार को एक बार फिर भगदड़ मच गई। अभिभाषकों को छुपना पड़ा और दुकानदारों को दौड़ लगानी पड़ी। करीब एक घंटे से ज्यादा परिसर में सन्नाटा पसरा रहा। कई दिनों से परिसर में मधुमक्खिां यहां आतंक मचा रही है। कोठी परिसर के पुराने न्यायालय भवन के आसपास मधुमक्खियों ने अपना आशियान बना लिया है। दिन-रात परिसर में इनका आतंक बना रहता है। शनिवार दोपहर को एक बार फिर मधुमक्खियों ने लोगों पर हमला बोला। हजारों की संख्या में मधुमक्खियों को देख परिसर में टेबल लगाकर पक्षकारों की बातों को सुन रहे अभिभाषक भाग खड़े हुए। दुकानदार दौड़ते नजर आये। मक्खियों ने कुछ को अपना शिकार बना लिया था। कुछ पल में ही पूरा परिसर सन्नाटे में दिखाई देने लगा। करीब 1 घंटे से अधिक समय तक कोई वहां दिखाई नहीं दिया। विदित हो कि 14 फरवरी को भी मधुमक्खियों ने अपना आतंक मचाया था। उस दौरान पीएचई विभाग के कर्मचारी शैलेन्द्रसिंह को मक्खियों ने इस कदर घेरा कि उसे 2 दिनों तक आईसीयू में भर्ती रहना पड़ा। अभिभाषकों और दुकानदारों का कहना था कि आये दिन मधुमक्खियों का आतंक यहां बना रहता है।