बिना परमिट के दौड़ रहे थे चार पहिया वाहन उज्जैन-औंकरेश्वर के बीच चलने वाली 12 टैक्सियां जप्त

0

उज्जैन। आरटीओ विभाग का उड़नदस्ता स्कूल बसों के साथ निजी वाहनों की चैकिंग में मुस्तैद दिखाई दे रहा है। मंगलवार को उज्जैन-औंकारेश्वर के बीच दौड़ने वाले चार पहिया वाहनों की जांच की गई। 12 वाहन जप्त किये गये है। स्कूल बसों से जुर्माना वूसलने की कार्रवाई को भी अंजाम दिया गया है। शैक्षणिक सत्र की शुरूआत होने के बाद आरटीओ का अमला स्कूली बसों  में सफर करने वाले छात्र-छात्राओं की सुरक्षा को देखते हुए जांच अभियान चला रहा है। एक सप्ताह से शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूली वाहनों को चैक किया जा रहा है। आरटीओ अमले ने अब निजी वाहनों की जांच-पड़ताल भी शुरू कर दी है। महाकाल लोक बनने के बाद उज्जैन-औंकारेश्वर का सफर भी काफी तेजी के साथ चल रहा है। सफर के लिये बाहर से आने वाले श्रद्धालु चार पहिया वाहन (कार) जो टैक्सी के रूप में दौड़ रहे है, उनकी मंगलवार को जांच की गई। आरटीओ स्टेनों अजय पंड्या ने बताया कि निजी वाहनों की जांच के दौरान 2 वाहनों से 50 हजार रूपये का जुर्माना वसूला गया। 12 टैक्सियां ऐसी मिली, जो बिना परमिट के उज्जैन-औंकारेश्वर के बीच चल रही थी। सभी को जप्त कर थानों पर खड़ा किया गया है। आगामी दिनों में भी ऐसी वाहनों की जांच जारी रहेगी। स्कूल बसों से वसूला 96 हजार शमन शुल्क आरटीओ विभाग द्वारा स्कूल बसों की लगातार जांच की जा रही है। स्कूल बसों में इमरजेंसी गेट के पास सीट लगी होना मिल रही है। वहीं विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिये सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गये आदेशों का उल्लंघन होना भी पाया जा रहा है। स्कूल प्रबंधको से शमन शुल्क के रूप में जुर्माना वसूला जा रहा है। मंगलवार को उज्जैन-तराना के स्कूलों में संचालित होने वाली बसों और चार पहिया वाहनों की जांच की गई। जिनसे 96 हजार 500 रूपयों का जुर्माना वसूल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *