कैंसर पीड़ित का आयुष्मान कार्ड त्वरित बनाने के निर्देश

0

-जनसुनवाई पूर्ववत शुरू हुई,कलेक्टर ने खूद एक-एक मामले को सूनकर दिए संबंधितों को निर्देश

– 140 से अधिक आवेदनों पर कार्यवाही के लिए अधिकारियों को ताकीद किया

 

उज्जैन । आमचुनाव की आचार संहिता के कारण स्थगित जनसूनवाई कार्यक्रम पूर्ववत मंगलवार से शुरू हो गया है। स्थगन के करीब 2 माह बाद पहली जनसूनवाई में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह के समक्ष 140 से अधिक आवेदन लेकर आवेदक पहुंचे थे। इन्हीं में शामिल एक कैंसर पिडिता का आयुष्मान कार्ड त्वरित बनाने के निर्देश उन्होंने अधिकारियों को दिए हैं। इसके अतिरिक्त अन्य मामलों में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

मंगलवार को प्रशासनिक संकुल भवन के सभाकक्ष में कलेक्टर ने जनसुनवाई की। उनके समक्ष आए आवेदनों के विभिन्न मामलों के निराकरण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये एवं प्रकरणों का त्वरित निराकरण के लिये कहा।  मक्सी रोड निवासी संभाजीराव पिता बसंतराव की पत्नी श्रीमती मंगला देशमुख ने आवेदन दिया कि उनके पति कैंसर से पीड़ित है, जिनका आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा है। उन्होंने कलेक्टर के समक्ष आयुष्मान कार्ड बनवाने का निवेदन किया। इस पर सीएमएचओ को त्वरित रूप से आयुष्मान कार्ड बनाकर कैंसर पीड़ित को उपचार के व्यय में सहायता दिये जाने के निर्देश दिये। इसी प्रकार ग्राम पालखंदा निवासी विजय परमार की पुत्री सुश्री उर्वशी परमार ने आवेदन देकर उच्च शिक्षा के लिये आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने का निवेदन किया।  इस पर नोडल प्राचार्य महाविद्यालय को आवश्यक कार्यवाही करने के लिये लिखा गया।

विधवा का मामला महिला बाल विकास को-

न्यू इंदिरा नगर नागझिरी निवासी रिंकी पति स्व.अर्जुन माली द्वारा आवेदन दिया कि उन्हें ससुराल वाले गाली देते हैं, जान से मारने की धमकी देते हैं और घर से बेदखल कर दिया है। उन्होंने निवेदन किया कि उनके दहेज का सामान और जेवर आदि उन्हें वापस दिलवाये जायें। इसी के साथ उन्हें जीवन यापन के लिये आर्थिक सहायता भी दिलवाई जाये। इस पर कलेक्टर ने महिला बाल विकास को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

अवैध कब्जे , फसल नष्टी की धमकी का आवेदन-

बिरलाग्राम नागदा निवासी श्री रामप्रसाद यादव द्वारा आवेदन देकर शिकायत की कि उनके भूखण्ड पर  अवैधानिक रूप से कब्जा कर उक्त प्लाट पर गार्डन निर्माण कर दिया गया है। एसडीएम नागदा को उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।स्वाति विहार नानाखेड़ा निवासी महिला कृषक श्रीमती निर्मला पति बलराम कछावा ने आवेदन देकर बताया कि उनकी भूमि पर बोई हुई खड़ी फसल शरारती तत्वों द्वारा नष्ट करने की धमकी दी गई है। तहसीलदार बड़नगर और कोठी महल को निर्देशित करते हुए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।ग्राम लिंबास तहसील बड़नगर निवासी श्री सीताराम पिता गंगाराम द्वारा आवेदन देकर बताया गया कि उनकी भूमि पर आरोपियों द्वारा भवन निर्माण किया गया है। आरोपीगण आयेदिन उनसे विवाद करते हैं, जिससे गांव की शान्ति भंग होती है। इस पर थाना प्रभारी भाटपचलाना को मामले पर संज्ञान लेते हुए त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिये गये।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *