विशेषज्ञों ने तीन दिन प्रशिक्षण देकर समझाया

-दिव्यांगजनों के विशेष शिक्षकों एवं क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं

 

उज्जैन। मध्य प्रदेश विकलांग सहायता समिति द्वारा विशेष शिक्षकों एवं क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं हेतु तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन 3-5 जून तक आयोजित किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन समिति के अध्यक्ष बिशप डा॰ सेबेस्टियन वडक्केल की मौजूदगी में किया गया । इसमें 115 प्रतिभागियों ने हिस्सेदारी की।

 

इस कार्यक्रम में उज्जैन, रतलाम, मंदसौर, इंदौर, सागर, राजगढ़, शाजापुर, आगर मालवा जिलों से कुल 115 प्रतिभागियों ने हिस्सेदारी की। कार्यक्रम का समन्वय एवं संचालन वरिष्ठ विशेष शिक्षकों द्वारा किया गया। आभार समिति संचालक फादर जार्ज ने माना।

इन मुद्दों पर दिया प्रशिक्षण-

प्रशिक्षण में दिव्यांगजनो को सशक्त, स्ट्रेस मैनेजमेंट, स्पीच थेरेपी, पक्सो एक्ट,जेजे एक्ट, ऑटिज्म, शासकीय योजना से दिव्यांग बच्चों को जोड़ना, यूडीआईडी प्रमाणीकरण, विशेष शिक्षकों की चुनौती एवं समाधान, यूडीआईएसई ,एवं विद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया आदि विषय पर प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इस अवसर पर देश के ख्यात विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया ।

ये थे प्रशिक्षक-

प्रशिक्षण में आईआईएम अहमदाबाद की विद्यार्थी दिव्याङ्ग सेल प्रभारी सुश्री निष्ठा ठाकुर , मुंबई की ऑटिज्म विशेषज्ञ सुश्री रीमा अमोल अवते, शिशु रोग विशेषज्ञ डा आबु बक्र, मनोवैज्ञानिक सुश्री वर्तिका शर्मा, पुनर्वास मनोवैज्ञानिक परामर्शदाता श्री शरद कसेरा, समग्र शिक्षा अभियान उज्जैन की सहायक परियोजना समन्वयक श्रीमती रेखा जाटवा, स्पीच थैरेपिस्ट दरब सिंह, प्राचार्य सिस्टर मरीन, डा॰ अनुप्रिया हाडा एवं विधि विशेषज्ञ फादर जीजों थॉमस द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया ।

 

 

You may have missed