मां शिप्रा तट के पावन रामघाट पर स्वच्छता का संदेश- विधायक, नगर निगम अध्यक्ष, महापौर ने जगाई स्वच्छता की अलख, संभागायुक्त और कलेक्टर ने की रामघाट पर सफाई

0

ब्रह्मास्त्र उज्जैन

जिले में जल गंगा संवर्धन अभियान का वृहद स्तर पर आयोजन किया जा रहा हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की मंशानुरूप उज्जैन में जन सहभागिता से जल स्रोतों के संरक्षण और पुनर्जीवन का कार्य सतत जारी है ।

इसी क्रम में शनिवार सुबह मां शिप्रा तट के पावन रामघाट पर विधायक उज्जैन उत्तर अनिल जैन कालूहेड़ा, नगर निगम अध्यक्ष कलावती यादव, महापौर मुकेश टटवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों और जन सामान्य द्वारा रामघाट पर साफ सफाई कर स्वच्छता की अलख जगाई गई।

इस दौरान उपस्थित संभागायुक्त उज्जैन संजय गुप्ता, कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, निगम आयुक्त आशीष पाठक द्वारा भी घाट की सफाई कर स्वच्छता का संदेश दिया गया। जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा अपने हाथ में ब्रश और बाल्टी ले घाट की सीढ़ियों की सफाई कर जमीं काई को हटाया गया।
विधायक अनिल जैन कालूहेड़ा ने संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में जल स्रोतों के संरक्षण का यह अभिनव अभियान 5 जून से 16 जून तक सतत जारी रहेगा। जनसहभागिता के माध्यम से जल स्रोतों के संरक्षण और पुनर्जीवन के साथ मां शिप्रा का शुद्धिकरण भी किया जाएगा। मां शिप्रा के शुद्धिकरण के लिए हम दृढ़ संकल्पित हैं। उन्होंने प्रशासन को अच्छे आयोजन के लिए बधाई दी। विधायक कालूहेड़ा ने इस दौरान घोषण की कि अभियान के तहत लोकमान्य तिलक गणेश उत्सव समिति के माध्यम से लगभग 50 हजार पौधों का घर-घर जाकर नि:शुल्क वितरण और आमजनों को इन पौधों के रोपण और संरक्षण के लिए शपथ दिलाई जाएगी। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण का यह अभियान चलाया जाएगा।

नगर निगम अध्यक्ष कलावती यादव ने कहा कि जल स्रोतों और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में जल गंगा संवर्धन अभियान अनूठी पहल है। सभी इस अभियान से जुड़कर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अपनी सक्रिय सहभागिता निभाएं। महापौर मुकेश टटवाल द्वारा भी अभियान को जनता का अभियान बनाने के लिए सभी का आह्वान किया। इस दौरान सभी को जल स्रोतों के संरक्षण और स्वच्छता की शपथ दिलाई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *