बॉम्बे हाईकोर्ट ने हमारे 12 की रिलीज पर लगाई रोक, अगली सुनवाई 10 जून को होगी, सीबीएफसी कर सकता है फिल्म में काट-छांट

0

मुम्बई। अन्नू कपूर की आने वाली फिल्म हमारे 12 की रिलीज पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने 14 जून तक रोक लगा दी है। फिल्म 7 जून को सिनेमा घरों में रिलीज होने वाली थी। हाल ही पुणे के रहने वाले एक व्यक्ति ने फिल्म के खिलाफ याचिका दायर की थी। जिसके बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने दोनों पक्षों की बात सुनकर यह फैसला किया है। अब इस केस की सुनवाई 10 जून के होगी। हाईकोर्ट में याचिकाकर्ता अजहर तंबोली ने कहा कि यह फिल्म मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली है। इसमें कुरान को भी गलत ढंग से दिखाया गया है। फिल्म के कुछ डायलॉग्स भी आपत्तिजनक हैं। अजहर ने कोर्ट में फिल्म को यू/ए सर्टिफिकेट दिए जाने पर भी सवाल उठाया है। पत्रकारों से चर्चा करते हुए अधिवक्ता अद्वैत सेठना ने बताया कि अब सेंसर बोर्ड से फिल्म हमारे 12 में कुछ कट्स लगाने के लिए कहा गया है। कुछ सीन्स या डायलॉग हटाए जाने के बाद ही यह फिल्म रिलीज हो सकती है।

इसी बीच एक वीडियो जारी कर अन्नू कपूर ने महाराष्ट्र पुलिस व गृह मंत्रालय से सुरक्षा मांगी थी। इसी सिलसिले में सोमवार को उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से भी मुलाकात की। वहीं अन्नू कपूर का कहना है कि यह फिल्म नारी सशक्तिकरण व बढ़ती जनसंख्या की बात करती है। यह किसी धर्म समुदाय को टारगेट नहीं करती है।

ऐसी है फिल्म की स्टोरी-

फिल्म के ट्रेलर में दिखाया गया है कि एक धर्म विशेष की महिलाओं पर धर्म की आड़ में अत्याचार हो रहे हैं। उनके साथ जोर-जबरदस्ती की जाती है और बच्चे पैदा करने का दबाव बनाया जाता है। फिल्म में अन्नू कपूर ने एक मुस्लिम शख्स मंसूर अली खान का रोल अदा किया है। जिसकी पहली पत्नी बच्चा पैदा करते हुए मर जाती है और उसकी दूसरी पत्नी छठी बार प्रेग्नेंट है। डॉक्टर्स का कहना है कि प्रेग्नेंसी में उसकी जान भी जा सकती है पर खान अबॉर्शन करवाने के लिए मना कर देता है। ऐसे में खान की बड़ी बेटी अपनी सौतेली मां को बचाने के लिए पिता को कोर्ट में घसीटकर मां के अबॉर्शन की डिमांड करती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *