45 गौवंश के बीच ट्रक में छुपाकर रखी थी कच्ची शराब -पुलिस ने तराना फंटा पर की सर्चिंग कर पकड़ा

उज्जैन। ग्रामीण क्षेत्रों के रास्ते गौवंश के साथ कच्ची शराब का परिवहन काफी बढ़ता दिखाई दे रहा है। मंगलवार-बुधवार रात राघवी पुलिस ने सर्चिंग कर तराना फंटा से 45 गौवंश से भरा अशोक लीलेंड कंपनी का ईकोमेट ट्रक पकड़ा। जिसमें सौ लीटर कच्ची शराब भी रखी होना सामने आई। पुलिस ने चालक और एक अन्य को गिरफ्तार किया है। राघवी थाना प्रभारी विरेन्द्र बंदेवार ने बताया कि रात में खबर मिली थी कि आगर से ट्रक में 45 गौवंश भरकर वध के लिये लाए जा रहे है। खबर मिलने पर एएसआई सेवाराम डोडियार, आरक्षक अरविंद, मुकेश, उत्तम रावत, कमल मालवीय, जितेन्द्र और सैनिक जितेन्द्रसिंह, बहादूरसिंह के साथ ट्रक को रोकने के लिये सर्चिंग शुरू की गई। तड़के तराना फंटा से ट्रक क्रमांक एमपी 09 जीजी 8809 को रोका गया। जिसमें ठूंस-ठूंसकर 45 गौवंश (केडों) को भरा था। ट्रक में शाहरूख पिता गनी खान 32 वर्ष निवासी ग्राम खडगवानी खारगोन और क्लीनर शेख अकरम पिता शेख अहमद 45 वर्ष निवासी छावनी मस्जिद के पास आगर सवार थे। दोनों को हिरासत में लेकर ट्रक थाने लाया गया। जहां गौवंश के बीच प्लास्टिक की 2 केन में सौ लीटर कच्ची शराब भरी होना सामने आई। दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में लिया गया है। शेख अकरम के खिलाफ पूर्व में भी वर्ष 2015 में राघवी और 2021 में महिदपुर थाने में गौवंश वध और पशु क्रूरता के मामले दर्ज किये जा चुके थे।

You may have missed