एसटीपी लाइन जोड़कर अब जगह-जगह बन रहे हाइड्रेट

 

ट्रैचिंग ग्राउंड के उद्यान को बेहतर रखने के लिए 6 किमी डली लाइन

इंदौर। करोड़ों रुपए की लागत से शहर के अलग-अलग इलाकों में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाए गए हैं। अब इन्हीं एसटीपी प्लांट से लंबी चौड़ी लाइन डालकर जगह-जगह हाइड्रेट भी बनाए जा रहे हैं ताकि किसी तरह की परेशानी ना हो सके। बताया जाता है कि इस मामले में खासकर लगभग 100 एकड़ में फैले ट्रेचिंग ग्राउंड के उद्यान के लिए 6 किलोमीटर की लाइन डलवा ही जा रही है ताकि देवगुराडिया स्थित ग्राम की हरियाली बरकरार रहे।
इसके लिए नगर निगम ने वैसे तो गत वर्ष ही देखा जाए तो राधा स्वामी नगर से नेमावर रोड बाईपास पर देवगुराडिया ट्रेचिंग ग्राउंड तक लगभग 6 किलोमीटर से अधिक
की लाइन डलवा दी थी। यहां पर कई जगह हाइड्रेट भी बनवाए गए हैं ताकि यहां बने सभी उद्यान में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के पानी से पेड़ पौधों की सिंचाई की जा सकती है।
खासकर इसके अलावा भी शहर के अलग-अलग इलाकों में इस तरह के पानी से हरियाली की जा रही है। जगह-जगह ट्रीटमेंट प्लांट से इस तरह की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। अभी की स्थिति में पाइप लाइन बिछाने का काम ट्रीटमेंट प्लांट से लेकर नियत जगह तक पानी भेजने का किया जा रहा है।
गौरतलब है कि शहर भर से लगभग 350 एमएलडी गंदा पानी छह प्रमुख स्थानों पर बने ट्रीटमेंट प्लांट तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

You may have missed