मप्र में भाजपा रचेगी इतिहास या कांग्रेस की बचेगी लाज, फैसला आज

 

सुबह मतगणना शुरू होने के बाद दोपहर तक हो जाएगी स्थिति साफ

भोपाल। इंतजार खत्म। यह अखबार जब आपके हाथ में होगा तो मतगणना की प्रक्रिया शुरू होने पर होगी। चार जून मंगलवार को देश के साथ-साथ मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों के चुनाव के परिणाम सामने आ जाएंगे। इसमें भाजपा एक बार फिर जबरदस्त जीत हासिल करते हुए इतिहास बनाती है या कांग्रेस लाज बचाने में सफल होती है, यह साफ हो जाएगा। 1991 से लेकर अब तक हुए लोकसभा चुनाव में कभी किसी दल ने सभी सीटें नहीं जीती हैं।
भाजपा का दावा है कि इस बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में प्रचंड जीत होगी और भाजपा प्रदेश की सभी 29 सीटें जीतेगी। छिंदवाड़ा में भी कमल खिलेगा। पिछले चुनाव में कांग्रेस को एकमात्र छिंदवाड़ा लोकसभा सीट ही 37, 536 मतों के अंतर से जीती थी।

कांग्रेस को 6 सीट मिलने का अनुमान

कांग्रेस का अनुमान है कि उसे छह सीटें मिल सकती हैं।
कांग्रेस ने इस बार 27 सीटों पर चुनाव लड़ा है। इंदौर लोकसभा सीट से कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी अक्षय कांति बम ने नामांकन वापसी के अंतिम दिन नाम वापस ले लिया था। इससे वहां कांग्रेस की चुनौती समाप्त हो गई थी।
वहीं, खजुराहो सीट पार्टी ने समझौते के तहत समाजवादी पार्टी को दी थी। पार्टी ने मीरा यादव को प्रत्याशी बनाया पर उनका नामांकन निरस्त हो गया और फिर कांग्रेस ने आइएनडीआइए गठबंधन की सहयोग आल इंडिया फारवर्ड ब्लाक पार्टी के आरबी प्रजापति को साझा प्रत्याशी घोषित किया गया था।

एग्जिट पोल में भाजपा की प्रचंड जीत

तमाम सर्वे एजेंसियों के एग्जिट पोल भाजपा की प्रचंड जीत की संभावना जता रहे हैं। कुछ एजेंसियों ने 29 में से सभी 29 सीटें भाजपा के खाते में जाने का अनुमान लगाया है। यदि ऐसा होता है तो प्रदेश में इतिहास बन जाएगा क्योंकि अभी तक ऐसी स्थिति कभी नहीं बनी है। परिसीमन के बाद हुए चार लोकसभा चुनाव में भाजपा ने सर्वाधिक 28 सीटें 2019 के चुनाव में जीती थीं।
तब कांग्रेस का गढ़ कही जाने वाली छिंदवाड़ा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के पुत्र नकुल नाथ ने पार्टी की लाज बचा ली थी। इस बार भी उन्हें कड़े मुकाबले का सामना करना पड़ा है। यहां पूरा चुनाव कमल नाथ ने लड़ा और सहानुभूति का कार्ड खेला। हालांकि, भाजपा ने उन्हें घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रोड शो किया और रात्रि विश्राम कर मैदानी जमावट जमाई।

Box
52 ज‍िला मुख्‍यालयों में आज सुबह आठ बजे से मतगणना

भोपाल। प्रदेश के सभी 52 जिला मुख्यालय पर मतगणना सुबह आठ बजे से प्रारंभी होगी। 29 जिला मुख्यालयों पर डाक मत पत्रों की गणना होगी। ईवीएम से मतों की गिनती भी 8 बजे से प्रारंभ होगी। गर्मी को देखते हुए सभी व्यवस्थाएं की गई है। अस्थाई अस्पताल फायर ब्रिगेड भी रहेगा। मंगलवार को ड्राई डे रहेगा।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, मप्र अनुपम राजन द्वारा लोकसभा निर्वाचन 2024 की मतगणना की तैयारियों के संबंध में प्रेस वार्ता ली गई है।

You may have missed