राजगढ़ में स्ट्रांग रूम से एस एल यू गायब,सुप्रीम कोर्ट पहुंचे दिग्गी

0

 

भोपाल। राजगढ़ स्ट्रांग रूम में सिंबल लोडिंग यूनिट (एसएलयू) के गायब होने को लेकर दिग्विजय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। वहीं कांग्रेस ने कहा है, कि परिणाम से पहले भाजपा घबरा गई है।

मध्यप्रदेश में लोकसभा का चुनाव 2024 के चार चरणों की मतदान प्रक्रिया पूरी हो गई है। अब स्ट्रांग रूम में गड़बड़ी की आशंका को लेकर कांग्रेस नेता एवं राजगढ़ प्रत्याशी पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह सुप्रीम कोर्ट की शरण में पहुंचे हैं। उन्होंने सिंबल लोडिंग यूनिट को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। जानकारी के अनुसार दिग्विजय सिंह की याचिका पर सुनवाई कल हो सकती है।

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह का आरोप है कि राजगढ़ प्रशासन ने एसएलयू गायब कर दिए हैं। गुना में एसएलयू स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रखी हुई है लेकिन राजगढ़ में नहीं। एक मई को चुनाव आयोग ने सर्कुलर जारी कर सभी राज्यों को निर्देश दिए थे, जिसमें कहा गया था कि एसएलयू को चुनाव याचिकाओं के मद्देनजर 45 दिनों तक स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रखा जाए।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विवेक त्रिपाठी ने कहा है कि कांग्रेस के राजगढ़ लोकसभा से प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने स्ट्रांग रूम के निरीक्षण में पाया कि सिर्फ़ राजगढ़ में उपयोग हुए (सिम्बल लोडिंग यूनिट) स्ट्रांग रूम से ग़ायब हैं। जांच में सामने आया कि निर्वाचन आयोग द्वारा राजगढ़ के इन यूनिट्स को कहीं और भेजा गया है। पड़ोसी लोकसभा गुना में ये यूनिट स्ट्रांग रूम में ही हैं । इस गंभीर मामले पर आपत्ति लेते हुए दिग्विजय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया है। उनका आरोप है कि जब न्यायालय के स्पष्ट आदेश हैं कि इन यूनिट्स को लोकसभा के स्ट्रांग रूम में ही अगले 45 दिनों तक संरक्षित रखना है, तब राजगढ़ के ही इन यूनिट्स को ही निर्वाचन आयोग ने कहीं और क्यों भेजा है। ये पूरी कार्यवाही किसके इशारे पर की जा रही है। इसकी जांच की जानी चाहिए और जिन अधिकारियों ने न्यायालय के आदेशों की अवहेलना की है, उन दोषी अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *