April 19, 2024

दैनिक अवंतिका(उज्जैन) नागदा से उज्जैन की ओर आ रहे बाइक सवारों के पास मादक पदार्थ होने की खबर पर मंगलवार-बुधवार रात 1 बजे पुलिस ने घेराबंदी की। पुलिस को देख तस्करों ने रास्ता बदल दिया और भागने लगे। पुलिस पीछा करते हुए 10 किलोमीटर तक पहुंची, लेकिन तस्कर तीन थैली रास्ते में फेंककर सकरे रास्तों से फरार हो गये।उन्हेल थाना एसआई मांगीलाल मालवीय ने बताया कि रात 12.30 बजे सूचना मिली थी कि नागदा से बिना नबंर की बाइक पर 2 तस्कर उज्जैन जाने के लिये निकले है। टीआई को अवगत कराकर एसआई मालवीय, एएसआई रामनारायण पंवार, प्रधान आरक्षक रामेश्वर पटेल और आरक्षक देवेन्द्र जाट के साथ घेराबंदी के लिये पुलिस वाहन में सवार होकर इंगोरिया रोड नवादा चौपाटी पहुंच गये। 1 बजे के लगभग बिना नबंर की बाइक पर सवार 2 व्यक्ति आते दिखाई दिये थे, बाइक पर थैले रखे हुए थे। एसआई मालवीय ने उन्हे रोकने का प्रयास किया तो पुलिस देख बाइक सवारों ने रफ्तार तेज कर दी। पुलिस वाहन से दोनों को पीछा शुरू किया, लेकिन दोनों बीच रास्ते में सोनगरा होटल के सामने तीन थैले छोड़कर इंगोरिया की ओर सकरे रास्तों पर भागने में सफल हो गये। एसआई मालवीय ने बताया कि दोनों को करीब 10 किलोमीटर तक पीछा किया गया। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों के कच्चे रास्ते पर पुलिस वाहन रफ्तार नहीं पकड़ सका, इसी का फायदा तस्करों को मिल गया। बीच रास्ते में छोड़े गये तीन थैले बरामद कर थाने लाया गया। जिसमें डोडाचूरा भरा होना सामने आया। वजन करने पर 26 किलो 400 ग्राम कीमत एक लाख होना पाया गया। बाइक सवारों की तलाश में मार्ग पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखे जा रहे है। जिसमें कुछ स्थानों पर दिखाई दिये है, लेकिन बाइक की रफ्तार तेज होने पर चेहरे स्पष्ट नहीं हो पाये है। मामले में अज्ञात दो व्यक्तियों के खिलाफ 8/15 एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण दर्ज किया गया है।