April 19, 2024

-इतिहास में पहली बार नक्सलियों से बीजीएल शेल बरामद

बालाघाट। मध्‍यप्रदेश पुलिस ने नक्सल विरोधी अभियान के तहत बालाघाट के जंगल में सर्च अभियान के दौरान एक महिला नक्सली सहित 43 लाख रुपए के दो नक्सलियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। मारे गए नक्सलियों से एक एके-47 एवं एक 12 बोर राइफल बरामद की गई। अन्य कुछ नक्सली घायल हुए हैं। वहीं कुछ भागने में कामयाब रहे। पुलिस ने मौके से हथियार बरामद किए हैं। मुठभेड़ बालाघाट के लांजी थाने में आनेवाले पितकोना केरेझरी के जंगल में हॉकफोर्स और मलाजखंड दलम के नक्सलियों के बीच हुई।

दो बीजीएल शेल, वायरलेस सेट, दो रेडियो भी बरामद
बालाघाट में नक्सल गतिविधियों की शुरुआत से आज तक के इतिहास में पहली बार नक्सलियों से बीजीएल शेल बरामद किए गए। इनसे दो बीजीएल शेल, वायरलेस सेट, दो रेडियो भी बरामद किए गए।

लांजी थाना क्षेत्र के पितकोना-केरझरी के जंगल में हुई
नक्सलियों से यह मुठभेड़ लांजी थाना क्षेत्र के पितकोना-केरझरी के जंगल में हुई। एनकाउंटर में मारी गई महिला नक्सली कान्हा-भोरमदेव डिवीजन के विस्तार प्लाटून-02 की डिविजनल कमेटी की सदस्य थी। वहीं दूसरा नक्सली मलाजखंड एरिया कमेटी का सदस्य था। दोनों ही नक्सली मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में कई नक्सली वारदातों को अंजाम दे चुके थे। हॉकफोर्स और सीआरपीएफ की टीम द्वारा मुठभेड़ के बाद जंगल में सघन सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा है।

सर्च ऑपरेशन अभी भी चलाया जा रहा
एसपी समीर सौरभ ने बताया कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की सीमा पर केराझरी जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच सोमवार रात मुठभेड़ हुई थी, जिसमें दो नक्सली मारे गए । ये दोनों नक्सली मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कई वारदात में शामिल रहे हैं। सर्च ऑपरेशन अभी भी चलाया जा रहा है। नक्सलियों के पास से रोजमर्रा का जरूरत का सामान बरामद किया है, साथ ही हथियार मिले हैं।
तीन राज्यों में सक्रिय थे नक्सली

हॉकफोर्स को बालाघाट जिले के लांजी थाना क्षेत्र के पितकोना-केरझरी जंगल में नक्सलियों के जीआरबी डिवीजन के नक्सलियों की मौजूदगी की विशेष सूचना मिली। हॉकफोर्स स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने त्वरित रूप से जंगल में सर्चिंग अभियान चलाया। सर्चिंग के दौरान सोमवार रात करीब 9 से 10 बजे के बीच पहले से घात लगाकर बैठे 20 से 25 नक्सलियों ने पुलिस पार्टी पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में हॉकफोर्स ने एक महिला सहित दो हार्डकोर वर्दीधारी नक्सलियों को ढेर कर दिया।

सुकमा की थी महिला नक्सली-
मारे गए नक्सलियों के पास से एक एके-47 और 12 बोर की राइफल के साथ ही दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद की गई है। कार्रवाई के दौरान किसी भी जवान के हताहत होने की सूचना नहीं है। मुठभेड़ में मारी गई महिला नक्सली सजंती उर्फ क्रांति पति सुरेंदर (38) निवासी ग्राम रेगाड़म थाना भेज्जी जिला सुकमा (छग) पर मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में कुल मिलाकर 29 लाख रुपए और रघु उर्फ शेर सिंह, उर्फ सोमजी पन्द्रे निवासी दडेकसा जिला बालाघाट पर मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में कुल मिलाकर 14 लाख रुपए का इनाम घोषित था। मारे गए नक्सली महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में सक्रिय थे। मुठभेड़ के दौरान अन्य नक्सलियों के घायल होने की भी संभावना है, जिनकी जंगल में तलाश की जा रही है।

दूसरी बड़ी सफलता
इससे पहले 14 दिसंबर को 14 लाख का ईनामी हार्ड कोर नक्‍सली मड़काम हिड्मा उर्फ चैतु निवासी ग्राम पोमरा, थाना मिरतुर, जिला बीजापुर (छत्तीगढ़) को मार गिराया गया था। अभियान में सम्मिलित 24 पुलिसकर्मियों को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन प्रदान किया गया। नक्‍सल विरोधी अभियान के तहत दो ईनामी हार्ड कोर नक्‍सलियों को ढ़ेर करने वाले पुलिसकर्मियों को भी आउट ऑफ टर्न प्रमोशन प्रदान कर सम्‍मानित किया जाएगा।

5 वर्षों में 17 नक्सली ढेर
पिछले 5 वर्षों में 17 नक्सलियों को मार गिराया गया है, जिनमें 2 डीवीसीएम नक्सल कमांडर और 15 एसीएम रैंक के नक्सली शामिल थे, जिन पर कुल 2.62 करोड़ रुपए का इनाम घोषित था। वर्ष 2022 में कुल 06 इनामी नक्सली मारे गए हैं तथा एक वर्ष में सर्वाधिक नक्सली मारे जाने का रिकार्ड है। 2023 में कुल 4 इनामी नक्सली मारे गए।