April 19, 2024

(उज्जैन) कालभैरव मंदिर पार्किंग में रविवार को प्रसाद नहीं लेने पर मुम्बई के बोरीवली वेस्ट से आये श्रद्धालु अमरदीप भट्टाचार्य और उनके परिवार पर हमला करने वाले चार आरोपियों राजेश उर्फ राजा पिता अम्बाराम भाटी, हर्ष पिता राजेश भाटी, आकाश पिता राजकुमार सांखला और किशोर उर्फ नंदकिशोर पिता रघुनाथ दायमा को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। चारों को सोमवार दोपहर न्यायालय में पेश किया गया था। जहां से केन्द्रीय जेल भैरवगढ़ भेजा गया है। विदित हो कि घायल अमरदीप भट्टाचार्य सुप्रीम कोर्ट में अभिभाषक है। वह अभिभाषक पत्नी शैजला, भाई ऋषिकेश भाभी अनुपमा, पुत्री नेत्रा, जीत, युवराज के साथ धार्मिक यात्रा पर आये थे। सभी मैजिक में सवार होकर काल भैरव मंदिर दर्शन करने पहुंचे थे। जहां प्रसाद नहीं लेने पर दुकानदार राजा भाटी ने अपने पुत्र और साथियों के साथ मिलकर लोहे की रॉड से हमला किया था। आरोपियों ने परिवार की महिलाओं से अश्लीलता भी की थी। श्रद्धालुओं के साथ हुई घटना को प्रशासन और पुलिस ने गंभीरता से लिया था और मंदिर की पार्किंग के आसपास लगी 25 से अधिक अवैध दुकानों को जेसीबी चलाकर तोड़ दिया था। एएसपी जयंतसिंह राठौर ने बताया कि गिरफ्तार चारों आरोपी की हमले में मुख्य भूमिका होना सामने आई है। फिलहाल श्रद्धालु परिवार ने हमले में शामिल अन्य लोगों के शामिल होने की बात कहीं थी। जिसको लेकर मामले में जांच की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ छेड़छाड़, हफ्तावसूली, मारपीट, गाली-गलौच, धमकाने की धारा में प्रकरण दर्ज किया गया था।