April 19, 2024

(उज्जैन) क्षिप्रा नदी के सिद्धघाट पर सोमवार शाम जान देने के इरादे से महिला ने पानी में छलांग लगा दी। उसे कूदता देख होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों ने बचाकर नदी से बाहर निकाला। महिला जान देने पर आमदा था, जिसे पुलिस के सुपुर्द किया गया है।
होमगार्ड सैनिक जगदीश सोलंकी ने बताया कि वह क्षिप्रा नदी के घाटों पर एसडीईआरएफ जवान विरेन्द्रसिंह, राहुल सूर्यवंशी और ब्रजमोहन के साथ सर्चिंग कर रहे थे। उसी दौरान सिद्ध आश्रम घाट पर एक महिला पहुंची और नदी में छलांग लगा दी। उसे कूदता देख एसडीआरएफ जवानों ने नदी में छलांग लगाई और महिला को बचाकर बाहर निकाला। महिला जान देने पर आमदा थी, उसका कहना था कि यहां तो बचा लिया, दूसरी जगह जाकर कूद जाऊंगी। उसे बमुश्किल समझाया गया और रामघाट चौकी लाया गया। जहां पूछताछ करने पर उसने अपना नाम कृष्णाबाई पति मिश्रीलाल राठौर होना बताया। उसका कहना था कि पति सहयोग नहीं करता है। पति से परेशान हो चुकी हूं। सैनिक सोलंकी के अनुसार मामले की सूचना महाकाल थाना पुलिस को दी गई और सुपुर्द किया गया। पुलिस ने परिजनों से संपर्क कर थाने बुलाया और समझाईश के बाद उसे घर भेजा।