कृषक ने जामुन के पेड़ पर फंदा बांधकर लगाई फांसी

दैनिक अवन्तिका
उज्जैन। शराब पीने के आदी कृषक ने खेत पर जामुन के पेड़ पर रस्सी का फंदा
बांधकर फांसी लगा ली। पडोसी ने उसे लटका देख परिजनों को सूचना दी। रविवार
को पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप मामले की जांच शुरू
की है। पानबिहार चौकी क्षेत्र के ग्राम निपानिया सुनार में रहने वाला सेवाराम
पिता गुलाब बोड़ाना 35 वर्ष खेती किसानी करता था और शराब पीने का आदी था।
शाम को वह खेत पर जाने को बोलकर घर से निकला था। कुछ देर बाद पडोसी
आशाराम अपने खेत पर पहुंचा तो उसने समीप खेत में सेवाराम को जामुन के पेड़
पर रस्सी के फंदे पर लटका देखा। उसने परिजनों को सूचना दी। भाई दयाराम
मौके पर पहुंचा और पडोसी की मदद से उसे नीचे उतारा। सांसे चलने पर जिला
अस्पताल लेकर आये। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सुबह पोस्टमार्टम
के दौरान भाई दयाराम ने बताया कि सेवाराम 2 बच्चों का पिता था, उसने 4
माह पहले भी फांसी लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया था। उस दौरान भी उसे
बचा लिया गया था। उसने फांसी लगाकर आत्महत्या क्यों की इसकी वजह पता नहीं
है। पुलिस का कहना था कि परिजनों के बयान दर्ज कर मामले की जांच शुरू की
जायेगी।

Author: Dainik Awantika