राशि अनुसार करें मकर संक्रांति पर दान

मेष और वृश्चिक राशि
इन राशि के जातकों के स्वामी मंगल हैं। इसलिए स्नान के बाद पुण्यकाल में तिल-गुड़, खिचड़ी, मिठाई,मसूर की दाल, मीठे चावल ,लाल या गुलाबी रंग के ऊनी वस्त्र आदि का दान करना चाहिए इसके अलावा लाल चंदन,अनार, नीबू आदि मंदिर में दान देना बेहद लाभकारी रहेगा।

वृषभ और तुला राशि
इन दोनों राशियों के स्वामी शुक्र हैं। जन्म कुंडली में शुक्र ग्रह की प्रसन्नता के लिए इस राशि के जातकों को मकर संक्रांति को दान में अपने राशि स्वामी शुक्र के अनुसार चीनी, बूरा,चावल, दूध-दही,सफेद या गुलाबी रंग के ऊनी कपड़े,खिचड़ी और तिल-गुड़ का दान करना विशेष फलदाई है।

मिथुन और कन्या राशि
इस राशि का स्वामी बुध होता है।अतः इस राशि के जातकों को मकर संक्रांति पर सुबह स्नान करने के बाद गरीबों को तिल के लड्डू, साबुत मूंग, खिचड़ी, मूंगफली, हरे कपड़े आदि दान करना शुभ रहेगा।

कर्क राशि
इस राशि का स्वामी चंद्रमा है इसलिए मकर संक्रांति के दिन इस वाले जातकों को चावल की खीर, सफ़ेद तिल के लड्डू, मावा से बनी हुई मिठाईयां, खिचड़ी, सफ़ेद तिल आदि का दान करना शुभ रहेगा।

सिंह राशि
सिंह राशि के स्वामी सूर्य है। अतः इस राशि वाले लोगों को मकर संक्रांति के अवसर पर स्नान के बाद खिचड़ी, लाल कपड़ा, रेवड़ी, गजक,गुड़ और मसूर की दाल, तांबे के बर्तन आदि दान करना अच्छा रहेगा।

धनु और मीन राशि
इन राशियों के स्वामी बृहस्पति हैं। पुण्यफलों में वृद्धि के लिए इस राशि के जातकों को इस दिन तिल, गुड़, खिचड़ी, मूंगफली, पपीता और पीले चन्दन का दान करना शुभ रहेगा।

मकर और कुंभ राशि
इस राशि के स्वामी सूर्यपुत्र शनिदेव हैं। शनिदेव के अशुभ प्रभाव में कमी और इनकी कृपा पाने के लिए इस राशि के जातकों को खिचड़ी, काला छाता, तिल या सरसों का तेल,उड़द की दाल की खिचड़ी और ऊनी वस्त्रों का दान करना मंगलकारी रहेगा।

Author: Dainik Awantika