आगररोड पर गाय का बचाने में डिवाइडर से टकराई शिफ्ट कार -ग्रेनाइड पत्थर कारोबारी गंभीर घायल, पत्नी और भतीजे को लगी चोंट

दैनिक अवंतिका
उज्जैन। आगररोड पर रविवार-सोमवार रात 3.30 बजे भीषण सड़क हादसा हो गया। गाय को बचाने का प्रयास करने पर ग्रेनाइड पत्थर कारोबारी की शिफ्ट कार डिवाइडर से टकरा गई। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हुआ है। कार में पत्नी और भतीजा भी सवार था, जिन्हे चोंट लगी है। मामले की जांच चिमनगंज थाना पुलिस ने शुरू की है। बताया जा रहा है कि ग्राम जैथल में रहने वाला विक्रम पिता रामनाथ पंवार पूणे में ग्रेनाइड पत्थर का कारोबार करता है। रात में वह कार क्रमांक एमएच 14 जेयू 9128 में सवार होकर पत्नी डालीबाई और भतीजे राहुल प्रजापत के साथ पूणे जाने के लिये रवाना हुआ था। चक कमेड के पास कार्मल स्कूल के सामने से गुजरते समय बीच रास्ते में गाय सामने आ गई। जिसे बचाने का प्रयास करने पर कार अनियंत्रित हो गई और बीच सड़क पर लोहे की रैलिंग से बने डिवाइडर से जा टकराई। कार की रफ्तार तेज होने से रैलिंग टूट गई थी और कार का कांच फोड़कर ड्रायवर सीट की ओर अंदर जा घुसी। जिसके चलते विक्रम नाथ पंवार गंभीर रूप से घायल हो गया। पत्नी और भतीजे को मामूली चोंट लगी थी। दुर्घटना की सूचना मिलने पर रात में 108 एम्बुलेंस मौके पर पहुंच गई थी। जहां से तीनों घायलों को उपचार के लिये निजी अस्पताल ले जाया गया। विक्रम नाथ की हालत गंभीर होने पर डॉक्टर ने आॅपरेशन थियेटर में उपचार किया। पत्नी और भतीजे को भी भर्ती किया गया था लेकिन दोनों की हालत सामन्य बनी हुई थी।
8 घंटे बाद मिली पुलिस को सूचनारात में हुई दुर्घटना के बाद चिमनगंज थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई थी, लेकिन कार में सवार सभी लोगों को एम्बुलेंस निजी अस्पताल लेकर रवाना हो चुकी थी। पुलिस ने कार नबंर से उसमें सवार लोगों का पता लगाने का प्रयास किया, लेकिन महाराष्ट्र पासिंग होने के साथ आरटीओ की साइड पर नबंर रिकार्ड में दर्ज होना सामने नहीं आया। सुबह तक पुलिस को घायलों के संबंध में जानकारी नहीं मिल पाई थी। दोपहर में निजी अस्पताल आर्थो से सूचना मिलने पर पुलिस को घायलों के संबंध में जानकारी मिल पाई। पुलिस के अनुसार घायलों के बयान दर्ज किये जा रहे है। कार विक्रमनाथ द्वारा चलाई जाना सामने आया है। इंदौररोड पर छात्र को डंपर ने कुचला
आगररोड पर हुई दुर्घटना से पहले रविवार रात 11 बजे इंदौररोड पर डंपर चालक ने बाइक सवार छात्र को कुचल दिया। छात्र की मौके पर ही मौत हो गई थी। नानाखेड़ा थाना पुलिस ने बताया कि दुर्घटना कंचन होटल के सामने हुई थी। खबर मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची थी। बाइक सवार मृतक के पास मिले मोबाइल के आधार पर उसकी पहचान सर्वेश पिता मधुसुदन बैरागी 23 वर्ष निवासी कंचनपुरा के रूप में हुई। परिजन जिला अस्पताल पहुंच गये थे, जिन्होने बताया कि सर्वेश तपोभूमि के समीप शादी में शामिल होने गया था, जहां से वापस घर लौट रहा था। वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराया, डंपर को जब्त किया गया, जिसके चलाक की तलाश की जा रही है।

Author: Dainik Awantika