क्या इस बार टूटेगा बड़ा मित्थक

उज्जैन ।  विधायक के बाद मोहन अब प्रदेश के मुखिया यानी राजा ही है। इसलिए अब क्या महाकाल की नगरी में एक राजा का रुकना सही होगा या फिर बदलेगा बहुत कुछ

सीएम मोहन यादव आज रात उज्जैन रुकेंगे। उज्जैन महाकाल की नगरी में कोई भी दूसरा राजा रात नही रुक सकता है। यह पौराणिक कथा के अनुसार मोहन यादव को कोई नुकसान होगा या नहीं यह देखने लायक होगा।
मोहन यादव रहने वाले उज्जैन के है। जेसे ही वे उज्जैन पहुंचे तो उन्होंने ये कहा कि में यहाँ का विधायक हु। उन्होंने अपने आप को मुख्यमंत्री नही माना।

अब ये सब महाकाल पर छोड़ दिया है, कि आगे क्या होगा

Author: Dainik Awantika