77 वें होमगार्ड स्थापना दिवस पर मार्चपास्ट शौर्य और कुशलता का परिचय देने वाले जवानों की प्रशंसा

दैनिक अवंतिका(उज्जैन) आपदा के समय अपनी जान जोखिम में डालने वाले होमगार्ड जवानों ने अपना 77 वां स्थापना दिवस बुधवार को मनाया। देवासरोड स्थित कार्यालय पर मार्च पास्ट किया गया। आपदा प्रबंधन से जुड़े उपकरणों की प्रदर्शनी लगाई गई और सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम ने विपरित परिस्थिति में शौर्य और कुशलता का परिचय देने वाले होमगार्ड जवानों की प्रशंसा करते हुए उन्हे प्रशस्ती पत्र सौंप सम्मानित किया। 6 दिसंबर को देश में होमगार्ड की स्थापना की गई थी, जो पूरे देश में आपदा प्रबंधन के साथ लॉ इन आॅर्डर के साथ व्हीवीआईपी ड्युटी के दौरान मुस्तैदी के साथ अपनी जान जोखिम में डालकर शौर्य और कुशलता का परिचय दे रहा है। बुधवार को स्थापना दिवस होने पर देवासरोड पर होमगार्ड कार्यालय के ग्राउंड में कार्यक्रम आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम के साथ विशिष्ठ अतिथि एसपी सचिन शर्मा और थल सेना के कर्नल ज्ञान प्रकाश चौधरी उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान सेरेमोनियल डेÑस में होमगार्ड जवानों ने मार्च पास्ट किया और अतिथियों को सलामी दी। उपरांत भारत के राष्ट्रपति  और डायरेक्टर जनरल होमगार्ड म.प्र. का संदेश नागरिक सुरक्षा गृह रक्षक संगठन में देश की सुरक्षा, आपदा प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, यह हमारी सुरक्षा, सेवा में निरतंर  कार्यरत है संदेश का वाचन किया गया। कलेक्टर ने वाहन में सवार होकर 6 प्लाटूनों आर्म्स, महिला, यातायात, आधुनिक बचाव उपकरणों से लैस एसडीईआरएफ प्लाटून का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने अपने उद्बोधन में कहा कि इसी वर्ष नागदा, बड़नगर, उज्जैन सहित जिले में आई बाढ़ के दौरान होमगार्ड के जवानों ने शौर्य-कुशलता का परिचय देते हुए विपरित परिस्थितियों में 2700 नागरिको को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचा और उनकी जान के साथ माल की सुरक्षा की। कलेक्टर ने उत्कृष्ट सेवा देने वाले जवानों को प्रशस्ती पत्र से सम्मानित कर उनकी प्रशंसा की। सभी मुख्य अतिथियों ने आपदा प्रबंधन के उपकरणों की प्रदर्शनी का जायजा लिया और उपकरणों की जानकारी प्राप्त की। कार्यक्रम के दौरान डिस्ट्रीक कमांडेंट एसडीईआरएफ/होमगार्ड संतोष कुमार जाट, प्लाटून कमांडर रूबी यादव, दिलीप बामनिया, शाीला चौधरी, पुष्पेन्द्र त्यागी, बीएल सारेल, हवालदार कृष्णा सोनी,लांस नायक भीम सोलंकी और सभी होमगार्ड, एसडीईआरएफ के जवान मौजूद थे।

Author: Dainik Awantika