रतलाम : जावरा के कोठारी ज्वेलर्स में करोड़ों की चोरी चोर 4 से 5 किलो सोना, करीब 4 क्विंटल चांदी के आभूषण चुरा ले गए, रास्ते में बिखरे मिले आभूषण

रतलाम । जिले के जावरा शहर में बीती रात्री को कोठारी ज्वेलर्स की दुकान में चोरी की बड़ी वारदात हो गई। प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री हिम्मत कोठारी के भतीजे प्रकाश कोठारी के ज्वेलरी शोरूम पर हुई इस वारदात में करोड़ों रुपए मूल्य के सोने, चांदी के आभूषणों की चोरी की आशंका जताई गई है। वारदात कितनी बड़ी हुई इसका अनुमान इसी से लगाया जा सकता है की घटना स्थल के रास्ते तक आभूषण बिखरे पड़े मिले।
जिले में जारी भारी बारिश के दौरान जावरा शहर के मुख्य बाजार में बदमाशो ने चोरी की बडी वारदात को अंजाम दे दिया। कोठारी ज्वेलर्स के नाम से प्रसिद्ध इस सराफा दुकान में पांच करोड रूपए मूल्य के सोना-चांदी की ज्वेलरी की चोरी की आशंका जताई जा रही है। यह वारदात जावरा में घंटाघर पुलिस चौकी से करीब 200 मीटर की दूरी पर हुई है।
इसकी जानकारी मिलने के बाद जिले के आला पुलिस अधिकारियों से लगाकर प्रदेश स्तर तक हड़कंप मचा हुआ है। मिल रही जानकारी के अनुसार बजाजखाना में सरार्फा व्यापारी प्रकाश कोठारी के कोठारी ज्वैलर्स नामक दुकान पर चोर पीछे के रास्ते से घुसे थे। कमलीपुरा के रास्ते से घुसे चोरों ने लगभग पांच किलो सोने की ज्वैलरी और करीब चार क्विंटल चांदी के आभूषण आदि पर हाथ साफ किया है। बताया जाता है की वारदात स्थल पर निर्माण कार्य चल रहा था। बताया जा रहा है कि बदमाश शोरूम के पीछे के रास्ते से छत पर चढ़कर दुकान में उतरे थे।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढ़ा सहित सभी वरिष्ठ अफसर घटनास्थल पर पहुंच गए है। मिल रही प्रारंभिक जानकारी के अनुसार बदमाशों ने वारदात के दौरान सब्बल से दरवाजे तोडे और दुकान में घुसे। इस दौरान बदमाश यहा से सीसीटीवी केमरे और डीवीआर भी उखाड़ ले गए। बदमाशों ने इतनी ज्वैलरी चुराई की उनके पास के झोले भर गए और जाते समय रास्ते में ज्वेलरी बिखरती रही। वारदात की परिजनो को सवेरे जानकारी मिली तो उन्होने पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते के बाद रतलाम से एएसपी राकेश खाखाल्लरतलाम से डॉग स्कवाड को साथ लेकर मौके पर पहुंच गए थे। फिलहाल पुलिस अधिकारी शोरूम के निकट की अन्य दुकानों पर लगे सीसीटीवी कैमरो की रिकार्डिंग के आधार पर मामले की जांच को आगे बढ़ा रहे है। सीएमपी दुर्गेश आर्मो ने बताया कि जिला स्तर से आए एफएसएल दल ने बारिकी से घटना स्थल की जांच की है। घटना स्थल पर वैज्ञानिक साक्ष्य एकत्रित किए गए हैं।

You may have missed