प्रदीप शर्मा खुसरो सम्मानित किए गए विश्व हिंदी सेवी सम्मान से

उज्जैन ।  एनबीटी नई दिल्ली द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पुस्तक मेले में दूसरे दिन विश्व हिंदी अकादमी एवं मालवा रंगमंच समिति के सहयोग से परिसंवाद का आयोजन किया गया। यह परिसंवाद भारतीय साहित्य में रहस्यवाद पर केंद्रित था। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता श्री प्रदीप शर्मा खुसरो मुंबई ने कहा कि भारत के रहस्यवादियों ने व्यापक मानवता का संदेश दिया है। अमीर खुसरो के काव्य में आध्यात्मिकता के साथ संगीत और सामान्य जन की भाषा का प्रयोग मिलता है। इस अवसर पर अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय, भोपाल के कुलपति प्रोफेसर खेमसिंह डहेरिया, विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन के कुलानुशासक प्रोफेसर शैलेंद्र कुमार शर्मा, संस्था अध्यक्ष श्री केशव राय, प्रोफेसर शैलेंद्र पाराशर, डॉक्टर पिलकेंद्र अरोड़ा, प्रोफेसर जगदीश चंद्र शर्मा, श्री यू एस छाबड़ा, श्री महेश शर्मा अनुराग आदि ने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा श्री प्रदीप शर्मा खुसरो को सम्मान पत्र एवं साहित्य अर्पित करते हुए विश्व हिंदी सेवा सम्मान से सम्मानित किया गया। संचालन श्री केशव राय ने किया। आभार प्रदर्शन राजेश राय ने किया।

Author: Dainik Awantika